Gros Isle Test: जो रूट ने जमाया शतक, विराट कोहली को पीछे छोड़ा, इंग्लैंड ने विंडीज पर शिकंजा कसा

इंग्लैंड के कप्तान जो रूट वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे टेस्ट में 111 रन बनाकर नाबाद हैं. जो डेनली और जोस बटलर ने अर्धशतक जमाए. 

Gros Isle Test: जो रूट ने जमाया शतक, विराट कोहली को पीछे छोड़ा, इंग्लैंड ने विंडीज पर शिकंजा कसा
जो रूट ने 80 टेस्ट में 6,674 रन बनाए हैं. इसमें 16 शतक और 41 अर्धशतक शामिल हैं. (फोटो: Reuters)

ग्रोस आइलेट (वेस्टइंडीज): इंग्लैंड ने वेस्टइंडीज के खिलाफ (England vs West Indies) पलटवार करते हुए तीसरा टेस्ट जीतने की तैयारी कर ली है. उसने कप्तान जो रूट के 16वें टेस्ट शतक की मदद से तीसरे टेस्ट (Gros Isle Test) के तीसरे दिन (सोमवार/11 फरवरी) विंडीज पर पूरी तरह से शिकंजा कस लिया. इंग्लैंड ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक अपनी दूसरी पारी में चार विकेट पर 325 रन बना लिए है. अब उसके पास 448 रन की बढ़त है, जबकि मैच में पूरे दो दिन का खेल बाकी है. इंग्लैंड ने पहली पारी में 277 और वेस्टइंडीज ने पहली पारी में 154 रन बनाए हैं. हालांकि, इंग्लैंड अगर यह मैच जीत भी जाता है, तब भी सीरीज के रिजल्ट पर इसका असर नहीं पड़ेगा. मेजबान वेस्टइंडीज की टीम शुरुआती दो टेस्ट मैच जीतकर सीरीज पहले ही अपने नाम कर चुकी है. 

जो रूट (Joe Root) ने अपनी इस पारी के दौरान सबसे अधिक रन बनाने के मामले में भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को पीछे छोड़ दिया है. यह उनका 80वां टेस्ट है. रूट ने 80 टेस्ट की 147 पारियों में 6674 रन बना लिए हैं. विराट कोहली ने 77 टेस्ट की 131 पारियों में 6613 रन बनाए हैं. हालांकि, शतकों और औसत के मामले में विराट कोहली, इंग्लिश कप्तान से काफी आगे हैं. विराट ने 25 शतक लगाए हैं, जबकि रूट के नाम 16 शतक ही हैं. इसी तरह कोहली का टेस्ट औसत 53.76 है. रूट ने 49.80 की औसत से रन बनाए हैं. अर्धशतक के मामले में जो रूट भारतीय कप्तान से काफी आगे हैं. जो रूट ने 41 औ विराट ने 20 अर्धशतक लगाए हैं. 

यह भी पढ़ें: B'day Special: भारत के इस कप्तान की खेलभावना की मिसाल पूरी दुनिया देती है, 10 Fact...

वेस्टइंडीज के खिलाफ पहली पारी में 123 रन की बढ़त लेने वाले इंग्लैंड ने तीसरे दिन अपनी दूसरी पारी 19/0 के स्कोर से आगे बढ़ाई. उसने तीसरे दिन सिर्फ चार विकेट गंवाए. सुबह उसका पहला विकेट रोरी बर्न्स के रूप में गिरा, जो कीमो पॉल की गेंद पर स्क्वेयर लेग में जोसेफ को कैच देकर लौटे. कीमो पॉल को पैर में चोट लगने के कारण मैदान छोड़ना पड़ा. 

इसके बाद कीटोन जेनिंग्स 23 रन बनाकर जोसेफ का शिकार हुए और ऐसा लग रहा था कि इंग्लैंड का मध्यक्रम लड़खड़ा जाएगा. लेकिन कप्तान जो रूट ने इसके बाद एक मोर्चा संभालकर अच्छी साझेदारियां निभाई. रूट ने सोवमार को 111 रन की नाबाद पारी खेली. उन्होंने 209 गेंदों की अपनी पारी में नौ चौके जमाए. 

यह भी पढ़ें: BCCI: विक्रम राठौर को इंडिया-ए का कोच बनाने पर विवाद, COA के फैसले पर उठे सवाल

कीमो पॉल की चोट के कारण वेस्टइंडीज का गेंदबाजी संयोजन गड़बड़ हो गया. इंग्लैंड ने इसका पूरा फायदा उठाया. रूट ने तीसरे विकेट के लिए जो डेनली (69) के साथ 74 रन की साझेदारी की. फिर चौथे विकेट के लिए जोस बटलर (56) के साथ 107 रन जोड़े. इसके बाद उन्होंने पांचवें विकेट के लिए बेन स्टोक्स (नाबाद 29) के साथ 71 रन की अटूट साझेदारी कर ली है.