VIDEO: ICC ने किया अलर्ट, क्रीज मत छोड़ना वरना धोनी नहीं छोड़ेगा

आईसीसी ने एक ट्वीट का जवाब देते हुए धोनी की विकेटकीपिंग को सलाम किया है.

 VIDEO: ICC ने किया अलर्ट, क्रीज मत छोड़ना वरना धोनी नहीं छोड़ेगा
वेलिंगटन वनडे में धोनी ने बहुत ही चतुराई से जेम्स नीशाम को रन आउट किया था. (फोटो: PTI)

नई दिल्ली: टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड में पांच वनडे मैचों की सीरीज 4-1 से जीत कर इतिहास रच दिया है. यह जीत तब और खास हो गई जब वेलिंगटन में खेले गए आखिरी वनडे में टीम इंडिया ने बहुत ही खराब हालात से उबरते हुए जीत हासिल की. इस मैच में कई उतार चढ़ाव रहे जिसमें एक खास पल को आईसीसी ने भी सलाम किया है. जब 253 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए न्यूजीलैंड टीम की उम्मीदें जेम्स नीशाम पर लगी थीं. ऐसे में नीशाम को टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी ने रनआउट कर मैच भारत की ओर मोड़ दिया. इसके बाद न्यूजीलैंड टीम मैच में वापसी नहीं कर सकी और 35 रनों से मैच हार गई. 

इस मैच में जब न्यूजीलैंड टीम के कप्तान केन विलियम्सन 26वें ओवर में 105 रन के स्कोर पर आउट हुए थे. तब जेम्स नीशाम बल्लेबाजी करने आए थे और तब टीम की मजबूत स्थिति थी. इसके बाद टॉम लाथम और कोलिन डी ग्रैंडहोम भी जल्दी ही आउट हो गए और 135 के स्कोर पर 6 विकेट गिरने से न्यूजीलैंड बैकफुट पर नजर आ रही थी.  इसके बाद जेम्स नीशाम ने सेंटनर के साथ मिलकर 41 रनों की साझेदारी कर न्यूजीलैंड को मैच में वापस ला दिया. यही से धोनी ने मैच पलट देने वाला ऐसा काम किया जो सिर्फ धोनी ही कर सकते थे. 

37 वें ओवर में धोनी ने किया कमाल और न्यूजीलैंड पर छा गया संकट
पारी के 37वें ओवर में केदार जाधव की गेंद पर नीशाम बीट हुए और केदार जाधव ने उनके खिलाफ एलबीडब्ल्यू की अपील की इसके बाद गेंद विकेटकीपिंग कर रहे एमएस धोनी के हाथों से छिटक कर कुछ दूर चली गई. अपील होने के फौरन बाद धोनी भी गेंद पकड़ने पीछे दौड़ गए. नीशाम को समझ में नहीं आया कि गेंद कहां गई और वे सैंटनर की देखने लगे कि कहीं रन की गुंजाइश तो नहीं है. ऐसे में वे क्रीज से बाहर भी निकल आए. यहीं धोनी ने फुर्ती दिखाई और चालाकी से नीशाम को रन आउट कर दिया. धोनी ने जीशाम को जरा भी भनक नहीं लगने दी कि गेंद विकेट के पास ही थी. 

इस तरह से धोनी ने जेम्स नीशाम को किया आउट 

इससे पहले 1 फरवरी को जापान के ओको ओनो ने ट्वीट कर लोगों से पूछा था, “हमें कुछ सलाह दें जिससे हम अपने जीवन के कुछ ठीक कर के हम चमक सकें.” वैसे तो ओनो को हजारों रिप्लाई मिले, लेकिन आईसीसी ने धोनी की फुर्ती को सलाम करते हुए जवाब दिया, “ जब धोनी स्टंप्स के पीछे हों तो कभी अपनी क्रीज नहीं छोड़ें.” 

ICC tweet reply

टीम ने पहले 10 ओवर तक केवल 18 रनों पर चार अहम विकेट गंवा दिए थे. इसके बाद अंबाती रायडू और हार्दिक पांड्या के बेहतरीन पारी के दम टीम इंडिया ने पहले 252 रनों का स्कोर बनाया और उसके बाद बढ़िया गेंदबाजी के दम पर न्यूजीलैंड को 217 रनों पर समेट कर यह मैच जीत लिया. इस जीत से टीम इंडिया ने पहली बार टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड में किसी भी सीरीज में 4 मैच जीते.