close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IND vs SA: पुणे में उमेश का दूसरा शिकार बना यह प्लेयर, साहा ने लपका सुपरमैन कैच

India vs South Africa: फॉलोऑन खेलते हुए दक्षिण अफ्रीका ने पहले दो विकेट जल्द गंवा दिए. पहला विकेट ईशांत ने तो दूसरा विकेट उमेश यादव ने लिया. 

IND vs SA: पुणे में उमेश का दूसरा शिकार बना यह प्लेयर, साहा ने लपका सुपरमैन कैच
उमेश यादव ने पहली पारी मे डि ब्रुइन को आउट किया था. (फोटो : IANS)

नई दिल्ली: पुणे में भारत और दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) के बीच चल रहे दूसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया के गेंदबाज जहां भारत को पारी की जीत दिलाने की कोशिश कर रहे हैं तो वहीं मेहमान टीम पारी की हार टालने के लिए 326 रन का पीछा कर रही है. दिन की शुरुआत में ही ईशांत शर्मा ने तीसरी पारी की दूसरी ही गेंद पर एडिन मार्करम को एलबीडब्ल्यू आउट कर तगड़ा झटका दे दिए इसके बाद जल्द ही उमेश यादव ने थेयुनिस डि ब्रुइन को मैच में दूसरी बार अपना शिकार बनाया.

पहले इशांत फिर उमेश ने दिया झटका
मैच के तीसरे दिन दक्षिण अफ्रिकी टीम 275 रन पर आउट हो गई जिससे वह टीम इंडिया से 326 रन पीछे थी. इसके बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने मेहमान टीम को फॉलोऑन खेलने को कहा इशांत शर्मा (Ishant Sharma) ने पहले ही ओवर में एडिन मार्करम का विकेट लेकर  दक्षिण अफ्रीकी टीम  को संकट में डाल दिया. उन्होंने एडिन मार्करम को दूसरी ही गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट कर मेहमान टीम को तगड़ा झटका दे दिया. यानी कि अब टीम इंडिया को जीत के लिए 9 विकेट चाहिेए जबकि दक्षिण अफ्रीका को पारी की हार बचाने के लिए 326 रन ही चाहिए थे. 

उमेश ने दोहराया पहली पारी का कारनामा
पहली पारी में उमेश यादव ने डि ब्रुइन को विकेट के पीछे ऋद्धिमान साहा के हाथों लपकवाया था. उस पारी में ब्रुइन ने 30 रन की पारी खेली थी. लेकिन इस पारी में ब्रुइन उमेश के सामने टिक नहीं सके और लेग साइड में बाहर जाती गेंद को छू बैठे और साहा ने इस बार सुपरमैन की तरह शानदार कैच लपका. डि ब्रुइन इस बार केवल 8 ही रन बना सके. 

संकट गहराया मेहमान टीम पर
इस विकेट के साथ ही डि ब्रुइन दूसरी बार ही पुणे टेस्ट में उमेश के हाथों आउट होने वाले और साहा के हाथों लपके जाने वाले खिलाड़ी हो गए. उनके आउट होते दक्षिण अफ्रीका की मुसीबत बढ़ गई. छठे ओवर में ही टीम के 21 रन के स्कोर पर दो विकेट गिर गए. अब टीम को पारी की हार बचाने के लिए 305 रन और बनाने थे. क्रीज पर डीन एल्गर का साथ देने कप्तान फाफ डु प्लेसिस आए. 
 

महाराज फिलेंडर ने खींची पहली पारी
जब तीसरे दिन दक्षिण अफ्रीकी टीम ने तीन विकेट के नुकसान पर 36 रन से आगे खेलना शुरू किया उसके बाद टीम के पांच विकट 53 रन पर गिर गए. लेकिन यहां से टीम को कप्तान फाफ ने संभाला. उन्होंने 64 रन की पारी खेली लेकिन उनके आउट होने तक 8 विकेट गिर गए और टीम को स्कोर केवल 162 ही था. यहां से केशव महाराज और वर्नेर फिलेंडर की 109 रन की साझेदारी के दम पर टीम दिन के अंत तक खेल सकी. लेकिन अश्विन ने टीम को 275 पर आउट कर दिया.