Zee Rozgar Samachar

Ind vs Eng: डे-नाइट टेस्ट से पहले Virat Kohli की ललकार, 'गेंद स्विंग हुई तो पड़ेंगे भारी'

चार मैचों की टेस्ट सीरीज में दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर चल रही हैं. तीसरे टेस्ट से पहले विराट कोहली (Virat Kohli) ने कहा कि उन्हें लगता है कि जब तक गेंद ठोस और चमकीली है, तब तक तेज गेंदबाजों के पास मैच में मौका रहेगा.

Ind vs Eng: डे-नाइट टेस्ट से पहले Virat Kohli की ललकार, 'गेंद स्विंग हुई तो पड़ेंगे भारी'
Virat Kohli and Team India (Twitter)

अहमदाबाद: मोटेरा में स्पिन को मदद करने वाली पिच की उम्मीद की जा रही है, लेकिन भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) का मानना है कि इंग्लैंड (England) के खिलाफ तीसरे डे नाइट टेस्ट में तेज गेंदबाजों का भी बड़ा रोल होगा.

चार मैचों की टेस्ट सीरीज में दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर चल रही हैं. तीसरे टेस्ट से पहले विराट कोहली (Virat Kohli) ने कहा कि उन्हें लगता है कि जब तक गेंद ठोस और चमकीली है, तब तक तेज गेंदबाजों के पास मैच में मौका रहेगा.

कोहली (Virat Kohli) ने मैच से पहले कहा, ‘मुझे लगता है कि गुलाबी गेंद लाल गेंद से अधिक स्विंग करती है. जब 2019 में (बांग्लादेश के खिलाफ) हम पहली बार इससे खेले तो, हमने यह अनुभव किया.’ कोहली ने इस बात को खारिज कर दिया कि अगर पिच से तेज गेंदबाजों को मदद मिलेगी तो इंग्लैंड का पलड़ा भारी रहेगा.

कोहली ने कहा, ‘मैं इस चीज से परेशान नहीं हूं कि इंग्लैंड टीम के मजबूत और कमजोर पक्ष क्या हैं. हमने उन्हें उनके घरेलू मैदान पर भी हराया है, जहां गेंद कहीं अधिक मूव करती है इसलिए हम इससे परेशान नहीं हैं.’

कोहली ने कहा, ‘और हां, विरोधी टीम की भी काफी कमजोरियां हैं, अगर आप इसका फायदा उठा पाओ तो. अगर यह उनके लिए तेज गेंदबाजी की अनुकूल पिच होगी तो हमारे लिए भी होगी.’

दोनों टीमें इस मुकाबले में अनिश्चितताओं के बीच उतरेंगी. गुलाबी गेंद को तेज गेंदबाजों की मदद के लिए जाना जाता है, लेकिन यह देखना होगा कि इससे स्पिनरों को कितनी मदद मिलती है जो घरेलू सरजमीं पर भारत का मजबूत पक्ष है.

सीनियर भारतीय बल्लेबाज रोहित शर्मा पहले ही कह चुके हैं कि यह स्पिन की अनुकूल पिच होगी. कोहली ने कहा कि सतह चाहे कैसी भी होगी गुलाबी गेंद का सामना करना लाल गेंद की तुलना में अधिक चुनौतीपूर्ण होता है.

उन्होंने कहा, ‘किसी भी तरह की पिच हो, गुलाबी गेंद से खेलना अधिक चुनौतीपूर्ण होता है. विशेषकर शाम को. हां, निश्चित तौर पर स्पिनरों की भूमिका होगी लेकिन मुझे नहीं लगता कि तेज गेंदबाजों और नई गेंद की अनदेखी की जा सकती है. जब तक गेंद ठोस और चमकीली है तब तक गुलाबी गेंद के कारण मैच में उनकी भूमिका होगी जिसके बारे में हमें पता है और हम इसी के अनुसार तैयारी कर रहे हैं.’

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.