close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvsAUS: 29 रन बनाकर भी ट्रोल हुए एमएस धोनी, 10 साल की सबसे धीमी बैटिंग की

37 साल के महेंद्र सिंह धोनी ने 37 गेंद पर 29 रन की नाबाद पारी खेली. वे इस पारी में एक भी चौका नहीं लगा सके. 

INDvsAUS: 29 रन बनाकर भी ट्रोल हुए एमएस धोनी, 10 साल की सबसे धीमी बैटिंग की
एमएस धोनी ने अपनी 29 रन की नाबाद पारी में एक छक्का लगाया. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ (India vs Australia) दूसरे वनडे में 7 विकेट पर 126 रन बनाए. इस तरह ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 127 रन का लक्ष्य मिला है. भारत के लिए ओपनर केएल राहुल ने सबसे अधिक 50 रन रन बनाए. एमएस धोनी (MS Dhoni) ने 29 रन बनाए. वे भारत की ओर से राहुल के बाद सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे. इसके बावजूद धोनी को सोशल मीडिया में ट्रोल होना पड़ा. 

दरअसल, एमएस धोनी ने इस मैच में बेहद धीमी बैटिंग की. धोनी जब बैटिंग करने आए तब भारत का स्कोर 10 ओवर में तीन विकेट पर 80 रन था. उनके क्रीज पर आने के कुछ देर बाद ही केएल राहुल भी आउट हो गए. इसके बाद विकेटों का पतझड़ सा लग गया. धोनी इस पतझड़ में टिके तो रहे, लेकिन उनके बल्ले से ज्यादा रन नहीं निकले. 

37 साल के एमएस धोनी ने 37 गेंद पर 29 रन बनाए. वे अपनी इस पारी में एक भी चौका नहीं लगा सके. हालांकि, उन्होंने एक छक्का लगाया. इस तरह उनका स्ट्राइक रेट 78.37 रहा. इसके साथ ही एमएस धोनी भारत के लिए दूसरी सबसे धीमी पारी (35 गेंद से अधिक की पारी) खेलने वाले बल्लेबाज बन गए हैं. यह किसी भी भारतीय की इंटरनेशनल मैचों में सबसे धीमी बल्लेबाजी भी है. रवींद्र जडेजा ने 2009 में इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स स्टेडिय में 35 गेंद पर 71.42 के स्ट्राइक रेट से 25 रन बनाए थे. 

MS Dhoni

धोनी की इस पारी से निराश एक क्रिकेटप्रेमी ने लिखा, ‘धोनी शायद खराब फॉर्म में हैं. वे कम से कम 10 रन और बना सकते थे. वे अब पहले जैसे हिटर नहीं रह गए हैं.’ एक अन्य क्रिकेटप्रेमी ने लिखा, ‘... धोनी आखिरी 15 गेंदों पर सिर्फ 10 रन बना सके. दुनिया के सबसे बेहतरीन फिनिशर ने अच्छा फिनिश नहीं किया.’ एक अन्य प्रशंसक ने लिखा, ‘धोनी की यह बेहद खराब बैटिंग है. बेहद धीमी बैटिंग. एमएस धोनी कृपया टेस्ट क्रिकेट में वापसी करिए.’
 

MS Dhoni  1

 

एक अन्य प्रशंसक ने ट्वीट किया, ‘धोनी क्या आप इंटरनेशनल टी20 मैच खेलना बंद कर सकते हैं. 30 गेंद खेलकर भी चौके नहीं लगा पाने से बेहतर है, खेलना बंद कर दें.’ धोनी को मैच के आखिरी ओवरों में निचलेक्रम के बल्लेबाज युजवेंद्र चहल पर ज्यादा यकीन नहीं था. उन्होंने इसी कारण कई मौकों पर एक रन नहीं लिया. इस पर एक प्रशंसक ने लिखा, ‘धोनी को निचलेक्रम के बल्लेबाजों पर भरोसा करना चाहिए. वे एक रन लेने के लिए लगातार मना करते रहे और सिर्फ एक छक्का लगा सके.’

एमएस धोनी का यह 97वां टी20 मैच है. उन्होंने इन मैचों की 84 पारियों में 37.54 के औसत से 1577 रन बनाए हैं. धोनी ने अपने टी20 करियर में सिर्फ दो अर्धशतक लगाए हैं. हालांकि, उन्होंने करियर में 125.25 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं, जो बेहतरीन कहा जा सकता है.