close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पुलवामा शहीद विधवाओं की मदद के लिए आगे आए मोहम्मद शमी, देंगे आर्थिक सहायता

मोहम्मद शमी पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों की विधवाओं के लिए आर्थिक मदद करने की घोषणा की है. 

पुलवामा शहीद विधवाओं की मदद के लिए आगे आए मोहम्मद शमी, देंगे आर्थिक सहायता
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  पुलवामा आतंकी हमले को लेकर जिस तरह से देश भर में लोगों का गुस्सा फूट रहा है, क्रिकेट जगत ने भी अपनी संवेदनशीलता दिखाई है. इस में क्रिकेटरों के बयान के अलावा क्रिकेटरों ने इस हमले की वजह से पिड़ित परिवारों को मदद के लिए सहयोग देने की घोषणाएं की है. शनिवार को ईरानी कप चैम्पियन विदर्भ ने भी घोषणा की कि वे पूरी इनामी राशि शहीदों के परिवारों के कल्याण के लिए दान करेंगे. अब टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों के परिवारों के लिए मदद के लिए आगे आए हैं. 

मोहम्मद शमी ने सीआरपीएफ के शहीद जवानों की विधवाओं के लिए आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है. शमी ने कहा है, “जब हम अपने देश के लिए खेलते हैं तब वे हमारी सीमाओं की रक्षा करने के लिए खड़े रहते हैं. हम हमारे जवानों के परिवारों के साथ खड़े हैं और हमेशा ही उनके साथ रहेंगे.”

Mohammed Shami donates for Pulwama martyr widows

क्रिकेट जगत में केवल मोहम्मद शमी ही नहीं हैं जो पुलवामा शहीदों के लिए आर्थिक मदद कर रहे हैं. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) भी शहीदों के परिवारों को आर्थिक मदद देने की तैयारी कर रही है है.  इसी सिलसिले में बीबीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सी.के. खन्ना ने प्रशासकों की समिति (सीओए) के प्रमुख विनोद राय से पुलवामा आतंकी हमले के शहीदों के परिजनों को कम से कम पांच करोड़ रुपये देने का अनुरोध किया है. 

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: भारत करेगा पाकिस्तान का बायकॉट? ऑस्ट्रेलिया और विंडीज कर चुके हैं ऐसा

खन्ना ने बताया, "मैंने पुलवामा आतंकी हमले के शहीदों के परिजनों को कम से कम पांच करोड़ रुपये देने का अनुरोध किया है. इसके लिए मैंने सीओए को पत्र लिखा है. यह उपयुक्त सरकारी एजेंसियों के जरिए होना चाहिए." खन्ना ने साथ ही आग्रह किया कि भारत और आस्ट्रेलिया के बीच 24 फरवरी को विशाखापत्तनम में टी-20 सीरीज के पहले मैच और आईपीएल के पहले मैच से पूर्व शहीदों की स्मृति में दो मिनट का मौन रखा जाए. 

इसके अलावा, भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग पहले ही शहीदों के परिवार के बच्चों को अपने 'सहवाग इंटरनेशनल स्कूल' में मुफ्त शिक्षा देने घोषणा कर चुके हैं. खन्ना ने सीओए को लिखे पत्र में कहा, "हम दुखी हैं और अपने साथी भारतीयों के साथ मिलकर घृणित पुलवामा आतंकी हमले की निंदा करते हैं. शहीद सैनिकों के परिवारों के प्रति हमारी संवेदना है." 
(इनपुट आईएएनएस)