पाकिस्तानी पूर्व कप्तान ने कहा, 'किस कप्तान ने बदल डाला टीम इंडिया का चेहरा'

Pakistan cricket: मोईन खान का कहना है कि धोनी की वजह से ही टीम इंडिया में बढ़िया प्लेयर और मजबूत बेंच स्ट्रेंथ आई. 

पाकिस्तानी पूर्व कप्तान ने कहा, 'किस कप्तान ने बदल डाला टीम इंडिया का चेहरा'
मोईन खान ने 2004 में इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लिया था. (फाइल फोटो)

करांची: पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर मोईन खान (Moin Khan) का मानना है की भारतीय क्रिकेट का चेहरा बदलने में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी का बहुत बड़ा योगदान है. मोईन ने कहा कि ये धोनी ही थे जिन्होंने उसे आगे बढ़ाया जो सौरव गांगुली (Saurav Ganguly) ने शुरू किया था. 

पाकिस्तानी न्यूज चैनल के एक शो में मोईन ने कहा, "मैं एमएस धोनी को भारतीय क्रिकेट का चेहरा बदलने के लिए श्रेय दूंगा. जो सौरव गांगुली ने शुरु किया था वह धोनी ने ही पूरा बदल कर दिखाया. यही वजह कि टीम इंडिया अब इतने बढ़िया खिलाड़ी पैदा कर रहा है और उनके पास एक मजबूत बेंच स्ट्रेंथ."

यह भी पढ़ें:  रोनाल्डो को गर्लफ्रेंड से गिफ्ट में मिली कार, इतने करोड़ की है कीमत

धोनी ने साल 2004 में गांगुली की कप्तानी में ही टीम इंडिया के लिए पहला मैच खेला था जो बांग्लादेश के खिलाफ था. उसके बाद उन्होंने टीम इंडिया के लिए 350 वनडे, 90 टेस्ट और 98 टी29 मैच खेले और स्टंप के पीछ 829 विकेट गिराने में अपनी भूमिका निभाई. 

धोनी के नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बतौर कप्तान बहुत से रिकॉर्ड रहे. क्रिकेट इतिहास में वे दुनिया के एकमात्र कप्तान हैं जिन्होंने आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप, टी20 वर्ल्ड कप और चैंपियन्स ट्रॉफी अपने देश को जिताई है. उन्होंने टीम इंडिया की टेस्ट और वनडे दोनों ही में नंबर एक रैंकिंग तक पहुंचाया.
मोईन भी साल 2004 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से रिटायर हुए थे.  उनका मानना है कि आज की पीढ़ी में केवल विराट कोहली ही ऐसे बल्लेबाज हैं जो बहुत  सारे रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं और लीजेंड बनेंगे. 

मोईन ने कहा, "मुझे आज की पीढ़ी के बल्लेबाजों में केवल विराट कोहली ही ऐसे दिखते हैं जो .बहुत सारे रिकॉर्ड तोड़ कर लीजेंड बन सकते हैं."

धोनी अभी तक केवल टेस्ट से रिटायर हुए हैं और पिछले साल हुए वनडे विश्व कप के बाद से क्रिकेट से दूर हैं.