हार्दिक-राहुल को बाहर करने का समर्थन करने वाले गावस्कर ने इस दिग्गज को दिखाया था बाहर का रास्ता

सुनील गावस्कर ने हार्दिक-राहुल विवाद में बीसीसीआई के फैसले का समर्थन किया.

हार्दिक-राहुल को बाहर करने का समर्थन करने वाले गावस्कर ने इस दिग्गज को दिखाया था बाहर का रास्ता
सुनील गावस्कर ने हार्दिक-राहुल को बीच सीरीज में वापस बुलाने के फैसले का समर्थन किया. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: टीम इंडिया के ऑस्ट्रेलिया दौरे के बीच हार्दिक पांड्या और केएल राहुल को एक टीवी शो में महिलाओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने पर प्रतिबंध लग गया है. इसकी वजह से दोनों खिलाड़ियों को बीच वनडे सीरीज छोड़कर देश वापस आना पड़ा. बीसीसीआई ने इस मामले की जांच होने तक उन्हें टीम इंडिया से निलंबित रखा है. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने बीसीसीआई के इस फैसले को सही ठहराते हुए हार्दिक-राहुल पर लगा बैन उचित बताया है. गावस्कर ने अपनी कप्तानी के दौरान एक बार भारत के महान गेंदबाज कपिलदेव को भी टीम से बाहर कर दिया था. जिसके बाद उनकी काफी आलोचना भी हुई थी. 

गावस्कर पूरी तरह से बीसीसीआई के फैसले के पक्ष में दिखाई दिए. गावस्कर ने कहा, “ यदि आप ऐसा काम करते हैं जिससे आपकी टीम की बदनामी होती है, तो आप टीम का हिस्सा नहीं हो सकते. यकीनन, यदि जरूरत पड़ी तो जांच उनके खिलाफ कार्यवाही तय करेगी ही. उन्हें वापस बुलाया गया है, मुझे लगता है कि यह सही कदम है क्योंकि आप निलंबित खिलाड़ियों को टीम के साथ नहीं सफर करने दे सकते या एक ही कमरे में नहीं रख सकते. उन्हें दूर ही रखा जाना चाहिए. वरना निलंबन का मतलब ही क्या जब वे टीम के साथ टीम को दी जाने वाली सुविधाओं का लाभ ले रहे हों.”

Hardik- Rahul

गावस्कर की कप्तानी में ही कपिल को किया गया था बाहर
सुनील गावस्कर अभी हार्दिक और केएल राहुल को बाहर करने के पैरवी कर रहे हैं लेकिन 1984 में उनकी कप्तानी में ही कपिलदेव को टेस्ट टीम से बाहर किया गया था. दिसंबर, 1984 में कपिल देव को इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के दौरान टीम इंडिया से बाहर होना पड़ा था. इसके बाद गावस्कर और कपिल के बीच विवाद सामने आया था. टीम इंडिया इंग्लैंड के खिलाफ होम टेस्ट सीरीज खेल रही थी. इसमें उसे 1-2 से हार का सामना करना पड़ा था. सीरीज का चौथा टेस्ट कोलकाता के ईडन गार्डन ग्राउंड पर होना था. इससे पहले ही कपिल देव को टीम से निकाल दिया गया. इसके पीछे कप्तान सुनील गावस्कर का हाथ होने की बात सामने आई.

अब भी स्पष्ट नहीं, सिलेक्टर्स या गावस्कर ने किया बाहर
इससे पहले दिल्ली में हुए तीसरे टेस्ट में कपिल देव ने कुछ ऐसा किया था, जिससे सिलेक्टर्स उनसे नाराज हो गए थे. गावसकर के मुताबिक, 'दिल्ली टेस्ट के आखिरी दिन कपिल बैटिंग करते हुए बेहद खराब शॉट खेलकर आउट हुए थे. वो भी तब जब टीम मैच बचाने की कोशिश कर रही थी. अच्छे बैट्समैन के इस तरह आउट होने से नाराज सिलेक्टर्स ने कपिल को कोलकाता टेस्ट से ड्रॉप करने का फैसला लिया था.' वहीं कई लोग अब भी यही मानते हैं कि कपिल को बाहर करने में गावस्कर का ही हाथ था.  

Gavaskar Kapil

यह फैसला लिया था बीसीसीआई ने हार्दिक-राहुल के खिलाफ
शुक्रवार को ही हार्दिक और केएल राहुल को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(बीसीसीआई) ने प्रशासकों की समिति (सीओए) के साथ मिलकर लिए संयुक्त फैसले के तहत खेल के सभी प्रारुपों से तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित कर दिया था. बीसीसीआई के फैसले के बाद इन दोनों खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया में जारी तीन वनडे मैचों की सीरीज बीच में छोड़कर स्वदेश लौटना पड़ा. बीसीसीआई ने कहा कि इस मसले पर जांच की जाएगी और इसके बाद ही इन दोनों के क्रिकेट खेलने पर फैसला लिया जाएगा. तब तक यह दोनों खिलाड़ी खेल के सभी प्रारुपों से दूर रहेंगे. इन दोनों खिलाड़ियों ने फिल्म अभिनेता करण जौहर के शो, कॉफी विद करण में महिलाओं को लेकर विवादस्पद बयान दिए थे जिसके बाद सीओए ने इन पर प्रतिबंध की सिफारिश की थी.