पाकिस्तान के खिलाफ T20 World Cup में हार का दुख नहीं झेल पाया ये खिलाड़ी, अचानक ले लिया संन्यास
X

पाकिस्तान के खिलाफ T20 World Cup में हार का दुख नहीं झेल पाया ये खिलाड़ी, अचानक ले लिया संन्यास

T20 World Cup 2021 के बीचों-बीच एक दिग्गज खिलाड़ी ने पूरी दुनिया को चौंका कर रख दिया है. दरअसल इस खिलाड़ी ने पाकिस्तान के खिलाफ हार झेलने के बाद वर्ल्ड कप से संन्यास का फैसला किया. 

 

पाकिस्तान के खिलाफ T20 World Cup में हार का दुख नहीं झेल पाया ये खिलाड़ी, अचानक ले लिया संन्यास

नई दिल्ली: T20 World Cup 2021 यूएई और ओमान की धरती पर इस वक्त खेला जा रहा है. जैसे-जैसे ये टूर्नामेंट आगे बढ़ रहा है इसका रोमांच और ज्यादा बढ़ता जा रहा है. इसके पीछे वजह ये ही कि अब सभी टीमें सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाने के बारे में सोच रही हैं. लेकिन इसी बीच एक दिग्गज खिलाड़ी ने संन्यास का ऐलान कर दिया है. इस बड़े फैसले के पीछे एक ऐसी वजह सामने आई है कि सभी क्रिकेट फैंस एकदम चौंक गए हैं.

पाक से हार की वजह से लिया संन्यास   

अफगानिस्तान के पूर्व कप्तान असगर अफगान ने कहा कि उन्होंने मौजूदा टी20 विश्व कप के बीच में ही संन्यास लेने का फैसला इसलिए किया क्योंकि उन्हें और उनके साथी खिलाड़ियों को पिछले मैच में पाकिस्तान से मिली हार से काफी दुख हुआ था. अफगानिस्तान को सुपर 12 राउंड के पिछले मैच में पाकिस्तान से पांच विकेट से हार मिली थी जिसमें आसिफ अली ने 19वें ओवर में चार छक्के जड़कर अपनी टीम को जीत दिलाई थी. पाकिस्तान को अंतिम दो ओवर में जीत के लिए 24 रन चाहिए थे.

अचानक कर दिया सबको हैरान

इस मैच को 24 घंटे भी नहीं हुए थे कि अफगान ने नामीबिया के खिलाफ मैच के बाद संन्यास लेने के फैसले की घोषणा कर दी. बतौर कप्तान उनके नाम सबसे ज्यादा टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में जीत दिलाने का रिकार्ड है. अफगानिस्तान की 115 मैचों में अगुआई करने वाले अफगान ने नामीबिया के खिलाफ पहली पारी खत्म होने के बाद अपने आंसू पोंछते हुए कहा, ‘पिछले मैच में हम काफी आहत हो गए थे इसलिए मैंने संन्यास लेने का फैसला किया. काफी सारी यादे हैं, यह मेरे लिए मुश्किल था. लेकिन मुझे संन्यास लेना था.’

शानदार रहा है रिकॉर्ड

33 साल के इस खिलाड़ी ने 6 टेस्ट, 114 वनडे और 75 टी20 अंतरराष्ट्रीय (नामीबिया के खिलाफ मैच को मिलाकर) मैच खेले हैं. उन्होंने सभी फॉर्मेट में 4246 रन बनाए हैं. अफगान ने रविवार को नामीबिया के खिलाफ 23 गेंद में 31 रन बनाए. उन्होंने कहा, ‘मैं युवाओं को मौका देना चाहता हूं. मुझे लगता है कि इसके लिए यह अच्छा मौका है. काफी लोग मुझसे पूछ रहे हैं कि अभी क्यों लेकिन यह ऐसी चीज है जिसका मैं जवाब नहीं दे सकता.’

आईसीसी ने दी बधाई

आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) ने अफगान को शानदार करियर के लिए बधाई दी जिसमें उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपने देश को आगे बढ़ाने में अहम भूमिका अदा की है. अफगानिस्तान ने आईसीसी के जिन सात बड़े टूर्नामेंट में भाग लिया है, उन सभी में यह बल्लेबाज टीम का हिस्सा रहा है. आईसीसी के कार्यवाहक मुख्य कार्यकारी ज्योफ अलार्डिस ने कहा, ‘असगर खेल का शानदार दूत रहा है और उसने अफगानिस्तान के विश्व क्रिकेट में आगे बढ़ने में अहम भूमिका निभाई है.’ आईसीसी की ओर से मैं उन्हें भविष्य के लिये शुभकामनाएं देता हूं और उम्मीद करता हूं कि वह आने वाले दिनों में खेल से जुड़े रहेंगे.’

Trending news