गंभीर के मन में अब भी विराट कोहली के लिए कड़वाहट, नहीं भूल पाए हैं 2013 का विवाद!

आरसीबी (RCB) के टूर्नामेंट से बाहर होने के बाद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने विराट कोहली (Virat Kohli) पर साधा निशाना, कहा ‘टीम को अब कप्तान विराट कोहली का विकल्प तलाशना होगा’

गंभीर के मन में अब भी विराट कोहली के लिए कड़वाहट, नहीं भूल पाए हैं 2013 का विवाद!
2013 में गंभीर और कोहली के बीच हुआ विवाद (File Photo)

नई दिल्ली: आईपीएल (IPL 2020) के 13वें सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) ने शानदार शुरुआत की और टीम प्लेऑफ में अपनी जगह बनाने में सफल रही. लेकिन टूर्नामेंट के दूसरे पड़ाव में आरसीबी अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रही. एलिमिनेटर मुकाबले में हैदराबाद (SRH) ने विराट की आर्मी को 6 विकेट से मात देकर टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता दिखाया और टीम ने लगातार अपनी 5वीं हार का सामना किया.

आरसीबी के खराब प्रदर्शन के बाद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने विराट कोहली (Virat Kohli) पर बड़ा बयान दिया है. गंभीर ने कहा है कि टीम को अब कप्तान विराट कोहली का विकल्प तलाशना होगा. उन्होंने कहा ‘आठ साल एक टूर्नामेंट में बिना खिताब जीते. आठ साल लंबा समय होता है. मुझे एक कप्तान बता दीजिए, कप्तान भी छोड़िए मुझे एक खिलाड़ी बता दीजिए जो आठ साल किसी टीम से खेला हो और खिताब न जीतने के बाद भी टीम में रहा हो. कप्तान को जिम्मेदारी लेनी होगी’.

भारतीय टीम को जीत की नई बुलंदियों तक ले जाने में टीम के कप्तान विराट कोहली का बड़ा हाथ है और इस बात में कोई दोहराए नहीं है. हां, विराट कोहली आरसीबी को जीत दिलाने में नाकाम रहे है लेकिन गंभीर ये बड़ा बयान दर्शाता है कि गंभीर 2013 के आईपीएल विवाद को अभी तक नहीं भुला सके हैं.

दरअसल 2013 में आईपीएल मैच के दौरान रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम आमने सामने थी और मैच के दौरान गौतम गंभीर  (Gautam Gambhir) और विराट कोहली (Virat Kohli) के बीच कहासुनी हो गई जिसने झगडे का रूप ले लिए. उस मैच में विराट आउट होकर पवेलियन की तरह लौट रहे थे. इसी बीच गंभीर और कोहली में बहस हो गई, मामला इतना बढ़ गया कि अंपायरों को बीच में आना पड़ा. इस घटना के बाद दोनों खिलाड़ियों को अपने व्यवहार के लिए जुर्माना भी देना पड़ा था.                         

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.