B'day Special: टेस्ट के पहले ओवर में हैट्रिक लगाने वाले इकलौते भारतीय गेंदबाज

पूर्व भारतीय ऑलराउंडर इरफान पठान आज अपना 36वां जन्मदिन मना रहे हैं.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Oct 27, 2020, 11:51 AM IST

नई दिल्ली: जब भी भारतीय क्रिकेट के सबसे बदकिस्मत खिलाड़ियों की बात होगी तो इरफान पठान (Irfan Pathan) का जिक्र अवश्य किया जाएगा. जिस क्रिकेटर को कभी कपिल देव (Kapil Dev) के बाद सबसे टेलेंटड भारतीय ऑलराउंडर माना गया था, उसका करियर बाद में एक बेहद निराशाजनक तरीके से खत्म हुआ. क्या आप जानते हैं कि इरफान टेस्ट मैच के पहले ओवर में हैट्रिक लगाने वाले इकलौते भारतीय गेंदबाज हैं. आज इरफान पठान अपना 36वां जन्मदिन मना रहे हैं. आइए जानते हैं इरफान पठान के करियर के कुछ अहम पहलू.

1/7

पाकिस्तान के खिलाफ लगाई थी हैट्रिक

irfan pathan

इरफान पठान ने पाकिस्तान के खिलाफ साल 2006 की सीरीज के कराची टेस्ट मैच में हैट्रिक लगाने का कारनामा किया था. उन्होंने मैच के पहले ही ओवर की चौथी गेंद पर सलमान बट्ट (Salman Butt), पांचवी गेंद पर यूनुस खान (Younis Khan) और छठी गेंद पर मोहम्मद यूसुफ (Mohammed Yusuf) को आउट करते हुए यह उपलब्धि हासिल की थी. इस कारनामे को आज तक कोई भारतीय गेंदबाज नहीं दोहरा पाया है. (फाइल फोटो)

2/7

19 साल की उम्र में चालू किया था करियर

irfan pathan

इरफान ने महज 19 साल की उम्र में ही 12 दिसंबर, 2003 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड टेस्ट मैच में अपना करियर शुरू किया था. उन्होंने अगले ही साल पाकिस्तान के खिलाफ 2004 में भारतीय टीम को टेस्ट और वनडे सीरीज जीतने में अहम योगदान दिया था. (फाइल फोटो)

3/7

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनके घर में जिताया था टेस्ट

Irfan Pathan

इरफान ने कई बार बल्ले और गेंद दोनों से ऑलराउंड प्रदर्शन का जोरदार नमूना दिखाया था. ऑलराउंडर के तौर पर उनकी सबसे जबरदस्त परफॉर्मेंस ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर 2008 के पर्थ टेस्ट मैच में मानी जाती है. इस टेस्ट मैच में बल्ले से 28 और 46 रन की पारियां खेली थीं तो गेंद से 5 विकेट भी चटकाए थे. इसकी बदौलत टीम इंडिया ने 72 रन से यह टेस्ट मैच जीतकर ऑस्ट्रेलियाई टीम का 16 मैच की लगातार जीत का क्रम तोड़ दिया था. (फाइल फोटो)

4/7

जिताया था देश को पहला टी20 वर्ल्ड कप

Irfan pathan

भले ही 2007 टी20 वर्ल्ड कप का फाइनल जोगिंदर शर्मा (Joginder Sharma) के आखिरी ओवर के लिए याद रखा जाता है, लेकिन सही मायने में यह वर्ल्ड कप इरफान पठान की गेंदबाजी ने ही जिताया था. इरफान ने इस फाइनल मैच में पाकिस्तान के ऊपरी क्रम के तीन विकेट महज 16 रन देकर चटकाए थे. इसके लिए इरफान को 'प्लेयर ऑफ द फाइनल' भी चुना गया था. (फाइल फोटो)

5/7

चोट से प्रभावित रहा करियर

irfan pathan

इरफान का पूरा करियर चोट से प्रभावित रहा. उन्हें 2010 आईपीएल (IPL) के बाद बैक इंजरी के कारण 8 महीने तक क्रिकेट से दूर होना पड़ा तो 2012 में एक बार फिर चोट ने उन्हें टीम से बाहर कर दिया. इसके बाद इरफान पठान कभी इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी नहीं कर पाए. (फाइल फोटो)

6/7

आईपीएल में भी किया जोरदार प्रदर्शन

irfan pathan

इरफान ने इंडियन प्रीमियर लीग  में भी जोरदार खेल दिखाया. उन्होंने 103 मैच में 1124 रन और 80 विकेट का शानदार ऑलराउंड प्रदर्शन आईपीएल की रिकॉर्ड बुक में अपने नाम पर दर्ज कराया है. इंटरनेशनल क्रिकेट में इरफान के नाम पर 29 टेस्ट मैच में 1105 रन और 100 विकेट तो 120 वनडे मैच में 1544 रन और 173 विकेट हैं. उन्होंने टी20 क्रिकेट में भी 24 मैच में 172 रन बनाने के अलावा 28 विकेट चटकाए थे. उनकी सबसे यादगार सीरीज जिंबाब्वे के खिलाफ उनके ही घर में रही, जहां उन्होंने 2 टेस्ट मैच में 21 विकेट लिए और अनिल कुंबले  और इंग्लैंड के जॉनी ब्रिग्स के बाद 2 टेस्ट मैच में 20 विकेट लेने वाले दुनिया के महज तीसरे गेंदबाज बने. (फाइल फोटो)

7/7

सुनहरे पर्दे पर भी दिखाया है जलवा

irfan pathan

फिलहाल आईपीएल में कमेंट्री कर रहे इरफान पठान सुनहरे पर्दे पर भी झलक दिखला जा डांस प्रोग्राम में अपना हुनर दिखा चुके हैं. इसके अलावा उन्होंने कोबरा नाम की एक तमिल फिल्म में काम किया है, जो जल्द ही रिलीज होने वाली है. इरफान की पत्नी भी मॉडल रह चुकी हैं. (फाइल फोटो)