कन्‍हैया कुमार News

alt
जेएनयू प्रकरण में देशद्रोह के आरोप का सामना कर रहा कन्हैया कुमार नए विवाद में फंस गया है। जेएनयू के रजिस्ट्रार भूपिंदर जुत्शी ने दावा किया है कि जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरू को फांसी के खिलाफ विवादास्पद कार्यक्रम की इजाजत को रद्द किए जाने पर ऐतराज जताया था। विश्विद्यालय के रजिस्ट्रार की ओर से इस मामले की जांच कर रही विश्विद्यालय कमिटी के सामने किए गए खुलासे से अब नए सवाल उठने लगे हैं। रजिस्ट्रार के मुताबिक कन्हैया ने उन्हें फोन कर कार्यक्रम की इजाजत रद्द होने की वजह पूछी थी। अब तक कन्हैया ये कह कर इस विवादित कार्यक्रम से खुद को किनारा करते आए थे कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं थी।
Mar 7,2016, 11:57 AM IST
alt
जेएनयू विश्वविद्यालय छात्र संघ के अध्‍यक्ष नेता कन्हैया कुमार ने अपनी गिरफ्तारी के तीन सप्ताह के बाद जेल से जेएनयू परिसर लौटने पर गुरुवार रात छात्रों के एक समूह को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ निशाना साधा और कहा कि वे देश के भीतर स्वतंत्रता चाहते हैं ना कि भारत से। कन्हैया की ओर से यूनिवर्सिटी कैंपस में कल रात दिए गए भाषण की जहां कुछ राजनेता जमकर प्रशंसा कर रहे हैं, वहीं कुछ इसको प्रतिक्रिया देने लायक भी नहीं मान रहे हैं। इस मामले में केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू का कहना है कि कन्हैया पब्लिसिटी पाने और राजनीति में आने के लिए यह सब कर रहा है, लेकिन उसकी पसंदीदा पार्टी की संख्या संसद में सिर्फ सिंगल डिजिट में आती है। 29 साल का यह जेएनयू छात्रसंघ अध्‍यक्ष राजनीति में शामिल हो सकता है, चूंकि जेल से रिहा होने के बाद उसे खासी पब्लिसिटी मिल रही है। हालांकि, भाजपा ने इस स्पीच को सिरे से खारिज करते हुए इसको प्रतिक्रिया देने लायक भी नहीं माना है।
Mar 4,2016, 14:00 PM IST
Read More

Trending news