close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

येती

ZEE जानकारी: हिममानव 'येति' के अस्तित्व को लेकर एक फिर क्यों छिड़ी है बहस?

पिछले कई दशकों में येति को देखने के बड़े बड़े दावे होते रहे हैं. लेकिन आजतक इसकी प्रमाणिकता, साबित नहीं हो पाई है. आज भी येति को एक कल्पना या अफ़वाह के रूप में देखा जाता है. 

Apr 30, 2019, 11:43 PM IST

बर्फीले पहाड़ों में हिममानव यानि 'येती' की मौजूदगी आज भी बरकरार है ?

भारतीय सेना की तरफ से पहली बार ऐसा दावा किया गया है कि बर्फ पर पैरों के बडे निशान देखे गए हैं. आर्मी की तरफ से ट्वीट कर कहा गया है कि पहली बार एक भारतीय सेना माउटाइरिंग एक्सपेडिशन टीम ने 09 अप्रैल, 2019 को मकालू बेस कैंप के करीब 32x15 इंच वाले हिममानव 'येति' के रहस्यमय पैरों के निशान लिए हैं. इस मायावी हिममानव को पूर्व में मकालू-बरुन नेशनल पार्क में देखा गया है.

Apr 30, 2019, 03:28 PM IST

आज भी जिंदा है 'हिममानव', पैरों के निशान देख चौंक गई सेना, शेयर की तस्वीरें

सेना को हिमालय में हिममानव 'येति' के पैरों निशान मिले हैं, जिसे उन्होंने ट्विटर पर शेयर किए हैं. 

Apr 30, 2019, 10:23 AM IST

खुल गया हिम मानव का रहस्य! भूटान की बर्फिली पहाड़ियों पर दिखे 'येती' के पैरों के निशान!

'येती' के रहस्य से पर्दा उठ गया है। डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, एक पर्वतारोही स्टीव बैरी ने भूटान में येती के पैरों के निशानों को देखने का दावा किया है। स्टीव ने इसकी तस्वीर भी ली है। उसका कहना है कि तस्वीर में जो पैरों के निशान दिख रहे हैं वह येती के हैं। आपको बता दें कि 'येती' के बारे में कहा जाता है कि वह हिमालय पर्वत की बर्फिली गुफाओं में निवास करता है। स्टीव का कहना है कि ये पैरों के निशान मानव के पैरों के निशान से बड़े हैं। ये निशान बर्फीले तेंदुए और किसी चार टांगों वाले जीव के भी नहीं हो सकते हैं। इसके अलावा बर्फ पर बने ये निशान बालू के भी नहीं हो सकते क्योंकि वो दो पैरों से चलता है और इतना भारी होता है कि एक के बाद एक पैर के निशान नहीं छोड़ सकता है। 

Feb 1, 2016, 05:56 PM IST