bhagirathi river

उत्तरकाशी: ...जहां रोज मौत को चुनौती देते हुए आगे बढ़ती है 'जिंदगी'

चामकोट गांव के बच्चे हो या बुजुर्ग या फिर महिलाएं सभी को नदी पार करने के लिए खुद ही ट्रॉली को खींचकर अपने पास लाना होता है और फिर अपने बाजुओं के दम पर रस्सी कों खिंचते हुए दूसरी तरफ जाना पड़ता है.

Jul 27, 2019, 01:51 PM IST

2 घंटे तक भागीरथी नदी में टापू पर फंसी महिला, SDRF ने सुरक्षित निकाला

महिला करीब दो घंटे तक नदी के बीच एक टापू में फंसी रही. एसडीआरएफ की टीम ने मौके पर पहुंची और महिला को बाहर निकाला. 

Jun 2, 2018, 04:07 PM IST

पढ़ें, कब होगा भागीरथी नदी के 100 किलोमीटर वाला क्षेत्र इको सेंसिटिव?

गोमुख से लेकर उत्तरकाशी तक भागीरथी नदी के 100 किलोमीटर लंबाई वाले क्षेत्र को केंद्र सरकार ने दिसंबर 2012 में ईको सेंसिटिव जोन घोषित कर राजपत्र जारी किया था। इस जोन में करीब 4179.95 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र शामिल है।   18 दिसंबर 2012 को जारी की गई अधिसूचना में साफ कहा गया था कि प्रदेश सरकार दो साल के भीतर आंचलिक महायोजना तैयार करेगी। इस योजना को तैयार करते वक्त स्थानीय लोगों की राय ली जाएगी। इसके अलावा अगर उनके अधिकारों को लेकर कोई समस्या खड़ी होती है तो उसे दूर किया जाएगा। लेकिन, दिसंबर 2014 तक का समय सरकार ने यह फैसला करने में ही लगा दिया कि ईको सेंसिटिव जोन को लागू किया जाए या नहीं। 

Dec 7, 2014, 01:51 PM IST