bhagwad geeta

कर्म ही नहीं शांति और धैर्य की भी संदेश वाहक है कृष्ण की गीता

करीब पांच हजार साल पहले कुरुक्षेत्र की भूमि पर दिया गया गीता का ज्ञान आज भी उतना ही समकालीन और मौजूं है, जितना कि वह अर्जुन को सुनाते समय था. गीता का उपदेश मोह में पड़े अर्जुन को कर्म के लिए प्रेरित करने वाला केवल एक प्रसंग नहीं है, बल्कि यह महाभारत की घटित घटनाओं और उनमें निहित कारणों का संक्षेपीकरण भी है. इस आधार पर देखें तो महर्षि वेदव्यास का लिखित यह काव्यग्रंथ खुद में गीता की ही विस्तार कथा है, जिसमें सत्य, धैर्य, शील और मानव जीवन की आधारभूत भावनाएं शामिल हैं. गीता जयंती के मौके पर इसी पावन गीता की बात

Dec 8, 2019, 06:51 PM IST

आराम की उम्र में जैकब हरमीत सिंह ने लिख दिए दुनिया के सबसे बड़े धार्मिक ग्रंथ

जैकब बताते हैं कि जिंदगी तो हर कोई जीता है, लेकिन असल जिदंगी वह होती है जिसमें खुद के नाम की पहचान हो. डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की लक्ष्य उंचा रखने वाली बात को अपनी प्रेरणा मानने वाले  जैकब हरमीत सिंह ने दुनिया के सबसे बड़े 3 धार्मिक ग्रंथ लिख डाले हैं. 

Nov 29, 2019, 02:24 AM IST

'फारुख रामायणी' ने साबित कर दिखाया कि धर्म नहीं सिखाता आपस में बैर रखना

फारूख रामायणी 35 वर्षो से लोगो को 'गीता व रामायण' का पाठ सुना रहें हैं. साथ में पांच वक्त के नमाजी भी  हैं, फारुख का कहना हैं कि उनके राम तो  रोम रोम में बसते हैं.

Nov 20, 2019, 11:20 AM IST

ଗୀତା ଅନୁସାରେ ଏହି ସମୟରେ ମୃତ୍ୟୁ ହେଲେ ହୁଏ ପୁନର୍ଜନ୍ମ

ଜାଣନ୍ତୁ କେଉଁ ସମୟରେ ମୃତ୍ୟୁ ହେଲେ ହୁଏ ପୁନର୍ଜନ୍ମ

Nov 9, 2019, 09:41 PM IST

अनूप जलोटा ने जहां न जाने की खाई थी कसम, उसी पाकिस्तान में जाकर किया गीता पाठ

 अनूप जलोटा ने इस सप्ताह पाकिस्तान में 'भगवद् गीता' के श्लोकों का उर्दू में अनुवाद सुनाया. 

Oct 27, 2017, 09:30 AM IST