फलस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने भारतीय को ‘स्टार ऑफ यरुशलम’ से किया सम्मानित
topStorieshindi

फलस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने भारतीय को ‘स्टार ऑफ यरुशलम’ से किया सम्मानित

अंसारी यहां इंडियन हास्पिस (भारतीय आश्रम) के निदेशक हैं, जो पिछले 800 साल से भारत की विरासत और यरुशलम के पुराने शहर में उनकी मौजूदगी का प्रतीक है

फलस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने भारतीय को ‘स्टार ऑफ यरुशलम’ से किया सम्मानित

यरुशलम: फलस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने भारतीय नागरिक शेख मोहम्मद मुनीर अंसारी को ‘स्टार ऑफ यरुशलम’ से सम्मानित किया है. ‘स्टार ऑफ यरुशलम’ फलस्तीन अधिकारियों द्वारा विदेशी नागरिकों को दिए जाने वाला सर्वोच्च सम्मान है.

गुरुवार रात आयोजित समारोह में राष्ट्रपति अब्बास ने फलस्तीन और यरुशलम को दी गई सेवाओं के लिए अंसारी का शुक्रिया अदा किया. फलस्तीन के राष्ट्रपति ने कहा कि यरुशलम के पुराने शहर में अंसारी के परिवार की मौजूदगी भारतीय और फलस्तीनी लोगों के बीच मजबूत पारंपरिक संबंधों को दर्शाती है.

अंसारी यहां इंडियन हास्पिस (भारतीय आश्रम) के निदेशक हैं, जो पिछले 800 साल से भारत की विरासत और यरुशलम के पुराने शहर में उनकी मौजूदगी का प्रतीक है. इंडियन हास्पिस में गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोगों की देखरेख की जाती है.

उनके पिता शेख नजीर हसन अंसारी हास्पिस में नियुक्त किए गए पहले शेख थे. गौरतलब है कि अंसारी को 2011में भारत में भी ‘प्रवासी भारतीय सम्मान’ प्रदान किया गया था, विदेश में रहने वाले भारतीयों को दिए जाने वाला यह भारत का सर्वोच्च सम्मान है.

Trending news