बेटे के गायब होने के 28 साल बाद घर पहुंची पुलिस, मां-बाप को किया गिरफ्तार

डोरिस ने बताया कि उन्होंने हमारे बेटे के शरीर को ढूंढने के लिए पूरे गार्डन को खोद डाला और घर को उजाड़कर रख दिया. उन्हें कुछ नहीं मिला. डोरिस और चार्ल्स का कहना है कि उन्हें इस बात के लिए बुरा नहीं लगा कि उन्हें कुछ नहीं मिला. क्योंकि उन्होंने अपने बेटे को मारा ही नहीं है तो उन्हें मिलेगा ही क्या? 

बेटे के गायब होने के 28 साल बाद घर पहुंची पुलिस, मां-बाप को किया गिरफ्तार
28 साल के बाद भी स्टीवन क्लार्क की तलाश में पुलिस (तस्वीर-पीए)

लंदन: चार्ल्स (78) और डोरिस क्लार्क (81) का बेटा 28 साल पहले अचानक गायब हो जाता है. उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाई जाती है. टीवी शो पर जाकर भी बेटे की गुमशुदगी की बात दुनिया को बताई जाती है. पुलिस भी छानबीन करती है और मामला धीरे-धीरे ठंडा पड़ जाता है. इस दंपत्ति का बेटा 28 साल पहले 23 साल का था और एक दिन वो चार्ल्स के साथ कहीं जाते समय गायब हो गया. उस समय चार्ल्स पब्लिस टॉयलेट के सामने रुके थे और उनका बेटा वहीं से गायब हो गया था. अब उसकी उम्र करीब 48 साल होगी. लेकिन अब स्थानीय पुलिस ने बुजुर्ग दंपति के घर में तहस-नहस मचा दिया है. पुलिस ने दंपति का घर, गार्डन यहां तक कि घर में बने तहखाने तक उजाड़ दिए हैं. ये मामला इंग्लैंड के नॉर्थ यॉर्कशायर (North Yorkshire) इलाके का है. 

स्टीवन क्लार्क के लौटने की उम्मीद

स्टीवन क्लार्क मानसिक रूप से थोड़ा अलग व्यवहार करता था. हालांकि वो पढ़ने में होशियार था. लेकिन डोरिस और चार्ल्स ने उसके आने की उम्मीद नहीं खोई है, इसलिए वो इस घर को बेचकर भी कहीं नहीं गए. और उसके आने का इंतजार कर रहे हैं. लेकिन अचानक एक दिन उनके घर पुलिस आई और दोनों को पुलिस स्टेशन ले गई. यही नहीं, पुलिसकर्मी ने उसने चिल्ला कर कहा कि उन्होंने ही अपने बेटे की हत्या की है. डेली मेल की खबर के मुताबिक, चार्ल्स ने कहा कि वो पुलिस के बर्ताव पर हैरान थीं. दंपति से पुलिस ने पूछताछ की और फिर उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया.

ये भी पढ़ें: मुंबई के होटल में मृत मिले निर्दलीय सांसद Mohan Delkar, गुजराती में लिखा सुसाइड नोट बरामद

दोबारा आई पुलिस और...

उनके घर आने के दो-तीन दिन बाद पुलिस फिर से उनके घर आई और इस बार पुलिस फोर्स पूरी तैयारी के साथ आई थी. पुलिस की 12 गाड़ियों के साथ खुदाई करने वाली मशीनें खड़ी थीं. डोरिस ने बताया कि उन्होंने हमारे बेटे के शरीर को ढूंढने के लिए पूरे गार्डन को खोद डाला और घर को उजाड़कर रख दिया. उन्हें कुछ नहीं मिला. डोरिस और चार्ल्स का कहना है कि उन्हें इस बात के लिए बुरा नहीं लगा कि उन्हें कुछ नहीं मिला. क्योंकि उन्होंने अपने बेटे को मारा ही नहीं है तो उन्हें मिलेगा ही क्या? हालांकि पुलिस अब भी मामले की जांच कर रही है और स्टीवन की तस्वीरों के साथ आम जनता से भी उनकी खोज की अपील की है. 

गायब होने के करीब 7 साल बाद चिट्ठी में किया गया था देखे जाने का दावा

स्टीवन के गायब होने के करीब 7 साल बाद एक चिट्ठी मिली थी, जिसमें उसे देखे जाने का दावा किया गया था. हालांकि जांच में इस मामले में कुछ नहीं निकला. चिट्ठी भेजने वाले ने दावा किया था कि स्टीवन को उसने लाल कार में देखा था. लेकिन स्टीवन को जब रोकने की कोशिश की तो वहां से तेजी से निकल गया.

चार्ल्स और डोरिस खुद भी रहे हैं पुलिसकर्मी

चार्ल्स और डोरिस दोनों खुद कभी पुलिस में हुआ करते थे. डोरिस 10 साल तक सर्विस में डब्ल्यूपीसी के तौर पर काम करती रहीं और चार्ल्स ने 5 साल काम करने के बाद सार्जेंट पद से इस्तीफा दे दिया था. चार्ल्स ने बाद में कार किराए पर देने का बिजनेस शुरू किया था और दोनों बाद में साउथ अफ्रीका चले गए थे लेकिन 10 साल बाद वहां से इंग्लैंड लौट आए. उस समय तक स्टीवन पढ़ाई में भी अच्छा प्रदर्शन कर रहा था.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.