19 साल की पॉलिटिशियन ने पहनी Nazi Swastika वाली टी-शर्ट, मच गया बवाल

19 वर्षीय टीनेजर नेता की बीते हफ्ते एक पुरानी तस्वीर वायरल हो गई जिसमें उसने सेक्स पिस्टल और नाजी स्वस्तिक प्रिंट वाली टी-शर्ट पहन रखी थी. इस तस्वीर के चलते बवाल मच गया. 

19 साल की पॉलिटिशियन ने पहनी Nazi Swastika वाली टी-शर्ट, मच गया बवाल
फोटो साभार- सोशल मीडिया.

साउथ वेल्स: आज-कल नेताओं को अलग-अलग वजहों से परेशानियों का सामना करना पड़ता है. कभी कोई अपने अटपटे बयानों के चलते लोगों के गुस्से का शिकार होता है तो कभी किसी को काम न करने के चलते जनता का गुस्सा झेलना पड़ता है. लेकिन इस बीच एक 19 वर्षीय पॉलिटिशियन को अपनी टी-शर्ट की वजह से मुसीबतों का सामना करना पड़ा.

एक टी-शर्ट के चलते बढ़ा विवाद

दसअसल, एक टीनेजर राजनेता की एक पुरानी तस्वीर वायरल हो गई जिसमें उसने सेक्स पिस्टल और नाजी स्वस्तिक प्रिंट वाली टी-शर्ट पहन रखी थी. तस्वीर वायरल होते ही बवाल मच गया. 19 साल की इस राजनेता को लोगों से माफी तक मांगनी पड़ी. बता दें कि म्यूजिक लवर रोजी डायमंड उस वक्त 17 साल की थीं जब उन्होंने विवादित सिंबल वाली यह टी-शर्ट पहनी थी. 

ये भी पढ़ें- यहां आज भी होता है महिलाओं का खतना, जानें कितनी खौफनाक है ये 'परंपरा'

19 साल की उम्र में जीतीं चुनाव

बता दें कि 19 वर्षीय इंडिपेंडेंट कैंडिडेट रोजी डायमंड ने पिछले हफ्ते साउथ वेल्स के नीथ में ब्रिटन फेरी टाउन (Briton Ferry Town) काउंसिल की सीट पर जीत दर्ज की. इस जीत के बाद ही उनकी ये गुंडा छवि वाली तस्वीर वायरल हुई. 

वायरल हुई तस्वीर तो मचा बवाल

वेल्स ऑनलाइन की एक रिपोर्ट के अनुसार, मिस डायमंड ने कहा कि उन्हें यह उत्तेजक सिंबल वाली टी-शर्ट पहनने का पछतावा है. उन्होंने आगे कहा कि सेक्स पिस्टल और नाजी स्वास्तिक प्रिंट वाली ये टी-शर्ट उन्हें 16 साल की उम्र में गिफ्ट में मिली थी.

टीन एज नेता को मांगनी पड़ी माफी

उन्होंने कहा, 'मेरे इस टी-शर्ट से जिनकी भावनाएं आहत हुई हैं या फिर अनजाने में मैंने जिन्हें दुख पहुंचाया है, मैं उन सभी से तहे दिल से माफी मांगती हूं. मुझे दुख है कि ये टी-शर्ट मेरे पास है. मैंने इसे सिर्फ इसलिए पहना क्योंकि ये मेरे पसंदीदा ब्रांड का प्रोडक्ट था.' उन्होंने कहा, 'मैं किसी भी तरह से नाजीवाद से नहीं जुड़ी हूं और मेरा मानना ​​है कि होलोकॉस्ट मानवता के इतिहास में अब तक की सबसे बुरी घटना है.'

उन्होंवे कहा, 'पंक मूवमेंट (The Punk Movement) सत्ता विरोधी होने, विविधता को बढ़ावा देने और नस्लवाद और नफरत को खत्म करने के लिए जाना जाता है. सेक्स पिस्टल पर गर्भपात और राजशाही के बारे में कविताएं लिखी गई हैं, उनका नफरत या भेदभाव से कोई संबंध नहीं है.'

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.