close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

देश ने संगठित आतंकवाद के खात्मे के लिए भारी कीमत चुकाई है: पाकिस्तानी सेना

सेना के प्रवक्ता मेजर जरनल आसिफ गफूर ने सोमवार को मीडिया से कहा, 'पाकिस्तान ने देश से संगठित आतंकवाद के खात्मे के लिए भारी कीमत चुकाई है.

देश ने संगठित आतंकवाद के खात्मे के लिए भारी कीमत चुकाई है: पाकिस्तानी सेना
पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को करीब 300 अरब डॉलर का नुकसान हुआ

नई दिल्ली: पाकिस्तानी सेना ने कहा है कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में सुरक्षा बलों समेत 81000 से ज्यादा लोग मारे गए हैं या घायल हुए हैं और देश की अर्थव्यवस्था को करीब 300 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है.

सेना के प्रवक्ता मेजर जरनल आसिफ गफूर ने सोमवार को मीडिया से कहा, 'पाकिस्तान ने देश से संगठित आतंकवाद के खात्मे के लिए भारी कीमत चुकाई है. आतंकवाद की वजह से सशस्त्र बलों समेत 81000 से अधिक पाकिस्तानी मारे गए या घायल हुए. इससे पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को करीब 300 अरब डॉलर का नुकसान हुआ'. 

उन्होंने कहा, 'हम आज पूरे विश्वास, साक्ष्यों और तर्क के साथ यह कह सकते हैं कि पाकिस्तान में अब कोई संगठित आतंकवादी ढांचा नहीं है'. गफूर ने बताया कि इन अभियानों में कुल 17,531 आतंकवादी मारे गए और हथियारों के अलावा करीब 450 टन विस्फोटक बरामद किए गए.

उन्होंने साथ ही कहा कि पाकिस्तानी सेना खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के कबीलाई इलाकों में पश्तूनों की समस्याओं को सुलझाने के लिए सभी प्रयास करेगी लेकिन उनका हिंसा में शामिल होना बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

उन्होंने कहा, 'शत्रुओं के हाथों की कठपुतली बन रहे लोगों (पश्तून तहफुज मूवमेंट) का समय अब पूरा हो गया है'.