उत्तर कोरिया की धमकी के बाद अमेरिका गरजा, कहा- 'परिणाम सोच कर कुछ भी करना'

अमेरिका ने उत्तर कोरिया पर निगरानी बढ़ा दी है, क्योंकि प्योंगयांग ने चेतावनी दी है कि अगर साल के अंत तक अमेरिका परमाणु वार्ता पर नया प्रस्ताव नहीं लाता है तो वह 'नया रास्ता' अपनाएगा. 

उत्तर कोरिया की धमकी के बाद अमेरिका गरजा, कहा- 'परिणाम सोच कर कुछ भी करना'
अमेरिका ने कोरियाई प्रायद्वीप पर एक बार फिर सोमवार को निगरानी विमान उड़ाया.फाइल फोटो

सियोल: अमेरिका ने कोरियाई प्रायद्वीप पर एक बार फिर सोमवार को निगरानी विमान उड़ाया. एक विमान ट्रैकर ने यह जानकारी दी. प्योंगयांग के लंबी दूरी के रॉकेट लॉन्च करने की संभावना को देखते हुए अमेरिका ने हाल ही में उत्तर कोरिया पर नजर रखने के लिए कई बार निगरानी विमान भेजे हैं. समाचार एजेंसी योनहाप ने एयरक्राफ्ट स्पॉर्ट्स के हवाले से कहा कि दक्षिण कोरिया में 31,000 फीट की ऊंचाई पर अमेरिकी वायुसेना का आरसी-135डब्ल्यू रिवर जॉइंट देखा गया.ट्रैकर ने कहा कि इससे पहले एक ई-8सी, या जेएसटीएआरएस को भी रविवार को प्रायद्वीप पर 31,000 फीट की ऊंचाई पर देखा गया था.

अमेरिका ने उत्तर कोरिया पर निगरानी बढ़ा दी है, क्योंकि प्योंगयांग ने चेतावनी दी है कि अगर साल के अंत तक अमेरिका परमाणु वार्ता पर नया प्रस्ताव नहीं लाता है तो वह 'नया रास्ता' अपनाएगा. सरकारी मीडिया के अनुसार, समय-सीमा करीब आते ही उत्तर कोरिया ने रविवार को पार्टी की प्रमुख बैठक का दूसरा सत्र आयोजित किया और देश की अखंडता तथा सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आक्रमक कदम उठाने पर चर्चा की.

उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन नए साल पर अपना बहुप्रत्याशित भाषण दे सकते हैं, जिसमें वे परमाणु मुक्तीकरण और सामरिक मुद्दों पर प्रमुख नीति बदलाव की घोषणा कर सकते हैं.

वाशिंगटन में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओब्रायन ने उत्तर कोरिया को किसी भड़काऊ कार्यवाही के प्रति चेतावनी देते हुए कहा कि ऐसी स्थिति में अमेरिका को बहुत निराशा होगी और प्रतिक्रिया करने के लिए उसके पास बहुत उपाय हैं.