फिर से विज्ञापन को लेकर विवादों में धोनी

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान यानी कैप्टन कुल महेंद्र सिंह धोनी भले ही कुछ समय से क्रिकेट खेलते नहीं दिखाए दे रहे हैं लेकिन उसके बावजूद धोनी अक्सर खबरों में बने रहते हैं. फिर एक बार धोनी खबरों में हैं लेकिन इस बार धोनी क्रिकेट की वजह से नहीं बल्कि विज्ञापन को लेकर चर्चा में हैं.  

फिर से विज्ञापन को लेकर विवादों में धोनी

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के बेहतरीन कप्तानों में शामिल एम. एस. धोनी सुर्खियों में बने हुए हैं लेकिन धोनी की खबरों में आने की वजह क्रिकेट नहीं है. धोनी पर एक विज्ञापन के जरिए लोगों को गुमराह करने के आरोप लगे हैं.

दीपिका पादुकोण हो सकती हैं विज्ञापनों से भी आउट, लिंक पर क्लिक कर जानें खबर.

क्या है पूरा मामला?
पुरानी कार बेचने वाली कंपनी Cars 24 के विज्ञापन पर लोगों को गलत जानकारी देकर गुमराह करने का आरोप लगाया गया है. दरअसल खबरों की मानें तो जिस तरह से Cars 24 अपने प्रचार में यह दावा करती है कि कार बेचने के तुरंत बाद ही आपको भुगतान कर दिया जाता है और यह कार बेचने के लिए सबसे भरोसेमंद जगह है. और इस विज्ञापन का चेहरा धोनी है, धोनी को ही यह बात कहते दिखाई जाती है. क्योंकि प्रचार में धोनी कहते हैं कि पुरानी कार बेचने वालों को शीघ्र पैसे दे दिए जाते हैं लेकिन भारतीय विज्ञापन मानक परिषद का दावा है कि Cars 24  अपने इस दावे पर खड़ा नहीं हो पा रहा है और लोगों को गुमराह कर रहे हैं. इसके खिलाफ 264 लोगों ने आरोप भी लगाया है. धोनी Cars 24 के विज्ञापन का सिर्फ चेहरा ही नहीं है बल्कि उन्होंने कंपनी के साथ मिलकर निवेश भी किया हुआ है. ऐसे में अगर यह आरोप सही साबित होता है तो धोनी की मुश्किलें काफी बढ़ सकती है.

शाओमी का नया मॉडल Black Shark 3 5G स्मार्टफोन हुआ लॉन्च, लिंक पर क्लिक कर जानें खबर.

पहले भी विज्ञापन को लेकर घिर चुके हैं विवादों से
यह पहली बार नहीं है जब विज्ञापन को लेकर धोनी पर उंगलियां उठाई जा रही है, इससे पहले भी आम्रपाली ग्रुप के साथ जुड़कर भी धोनी आरोपों से घिरे थे. बता दें कि पिछले साल आम्रपाली विवाद में दर्ज की गई FIR में धोनी का नाम भी शामिल था. आम्रपाली ग्रुप बिल्डर्स का काम करती है और यह लोगों से पैसे लेकर उन्हें घर बना कर देती है. लेकिन कंपनी पर 42 हजार से ज्यादा लोगों के साथ घर खरीदारी के मामले में धोखा देने का आरोप सामने आया था. धोनी का नाम आरोपों से इसलिए घिरा क्योंकि धोनी आम्रपाली ग्रुप के ब्रांड एंबेसडर थे.