• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 1,01,497 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 2,07615: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 1,00,303 जबकि अबतक 5,815 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • रेलवे ने 4155 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन किया; 57+ लाख यात्रियों को उनके गंतव्य तक पहुँचाया गया
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्री ने #AatmaNirbharBharat के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए 3 योजनाओं की शुरुआत की
  • #AatmaNirbharBharat के लिए #MakeInIndia को प्रोत्साहित करने के लिए DPIIT ने पब्लिक प्रोक्योरमेंट ऑर्डर, 2017 में संशोधन किया
  • एंटी-कोविड ​​ड्रग मॉलेक्यूल के फास्ट-ट्रैक विकास के लिए SERDB-DST ने IIT (BHU) वाराणसी में अनुसंधान के लिए सहयोग को मंजूरी दी
  • ट्राइफेड कोविड ​​-19 के कारण संकट में पड़े आदिवासी कारीगरों को हरसंभव सहायता प्रदान करेगी
  • पीएसए और डीएसटी ने संयुक्त रूप से राष्ट्रीय विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवाचार नीति 2020 के निर्माण की प्रक्रिया की शुरुआत की
  • कृषि, सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग ने विभिन्न बागवानी फसलों के लिए 2019-20 का दूसरा अग्रिम अनुमान जारी किए हैं
  • कोविड के लक्षण विकसित होने पर, घबराएं नहीं, तुरंत 1075 पर कॉल करें #IndiaFightsCorona #BreakTheStigma

वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की एक और मिसाल: पहले सेहरी और इफ्तारी अब ईद मनाने की तैयारी

रमजान के महीने में जम्मू के कटरा में स्थित वैष्णो देवी मंदिर का संचालन करने वाले श्राइन बोर्ड के आशीर्वाद भवन को क्वारंटीन सेंटर में बदल दिया गया, जिसमें 500 मुस्लिम क्वारंटीन किए गए हैं. लेकिन अब बोर्ड ईद के पर्व को खास बनाने में जुट गया है...

वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की एक और मिसाल: पहले सेहरी और इफ्तारी अब ईद मनाने की तैयारी

नई दिल्ली: जम्मू के माता वैष्णो देवी मंदिर का संचालन करने वाले श्राइन बोर्ड ने हिंदू मुस्लिम एकता की अनूठी मिसाल पेश की है. कोरोना संकट के दौर में श्राइन बोर्ड ने न सिर्फ अपनी बिल्डिंग को क्वारंटाइन सेंटर में तब्दील कर दिया, बल्कि उससे भी एक कदम आगे बढ़ते हुए उस क्वारंटीन सेंटर में रह रहे करीब 500 मुस्लिमों  के लिए रमजान में सहरी और इफ्तार का इंतजाम कर रही है.

अब ईद की तैयारी में जुटा श्राइन बोर्ड

ईद के मौके पर मुस्लिम समुदाय के लोगों की भावना का सम्मान करने के लिए श्राइन बोर्ड ने खास इंतजाम किए हैं, जिससे उन्हें ऐसा कतई न महसूस हो कि वो इस खास पर्व को अपने घर पर नहीं मना रहे हैं. जानकारी के अनुसार श्राइन बोर्ड ने ये तैयारी की है कि ईद के दिन मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिए चना-पूरी और हलवा परोसने का इंतजाम किया जाएगा.

वैष्णो देवी मंदिर बोर्ड ने कायम की मिसाल

बोर्ड ही इन लोगों के खाने-पीने का इंतजाम कर रहा है. कोरोना के चलते लगभग 500 मुस्लिमों को कटरा के आशीर्वाद भवन में क्वारंटीन किया गया है. रमजान के मौके पर श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने इन सभी लोगों को सहरी और इफ्तारी देकर शानदार मिसाल कायम की है.

लॉकडाउन के कारण माता वैष्णो देवी मंदिर बंद हैं और श्रद्धालुओं के लिए बनाए गए धर्मशाला भी खाली हैं.

ऐसे में कोरोना काल में कटरा में मौजूद वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की बिल्डिंग आशीर्वाद भवन को श्राइन बोर्ड ने क्वारंटाइन सेंटर बना दिया है. बता दें, आशीर्वाद भवन में वैष्णो देवी आने वाले श्रद्धालुओं को ठहराया जाता था. इस क्वारंटाइन सेंटर में करीब 500 मुस्लिमों को क्वारंटीन किया गया है. रमजान के महीने में यहां क्वारंटाइन मुस्लिम समाज के लोग रोजा रख रहे हैं.

500 मुस्लिमों के लिए सेहरी और इफ्तार का इंतजाम

श्राइन बोर्ड इस क्वारंटाइन सेंटर में सभी मुस्लिमों के लिए सहरी और इफ्तारी का इंतजाम कर रही है. श्राइन बोर्ड के किचन में शेफ दिन रात खाना बनाते हैं. सेहरी और इफ्तारी के टाइम के मुताबिक इन लोगों को भोजन दिया जाता है.

इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी ख्याल रखा जाता है. मुसलिमों के रहने और खाने का सारा खर्च श्राइन बोर्ड उठा रहा है. ईद को देखते हुए श्राइन बोर्ड की ओर से खास तैयारियां की गई हैं. माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की मेहमान नवाजी से क्वारंटाइन सेंटर में रह-रहे रोजेदार भी खुश हैं.

इसे भी पढ़ें: जिसे जानलेवा रोग समझते रहे, वही दवा बन गया

श्राइन बोर्ड के इस कदम की हर तरफ तारीफ हो रही है. वैष्णो देवी मंदिर का संचालन करने वाले इस बोर्ड ने अपने इस छोटे से प्रयास से साबित किया है कि भारत खास क्यों है.

इसे भी पढ़ें: चीन के खिलाफ मोदी सरकार ने बदली रणनीति

इसे भी पढ़ें: यहां तो जगह ही नहीं बची, लाशों को दफ़नायें कहाँ?