• आगरा में अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप और मेलानिया ट्रंप
  • ताजमहल पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप और मेलानिया
  • करीब एक घंटे तक ताजमहल में रहेंगे ट्रंप और मेलानिया
  • यूपी की राज्यपाल और सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया ट्रंप का स्वागत

CAA हिंसा: दंगाइयों पर योगी सरकार का सख्त एक्शन जारी

नागरिकता कानून पर उत्तर प्रदेश में कई जगहों पर हिंसात्मक प्रदर्शन हुए जिससे सार्वजनिक संपत्ति को भारी नुकसान हुआ. योगी सरकार सभी दंगाइयों पर लगातार सख्त एक्शन ले रही है. यूपी सरकार ने  AMU के 1 हजार अज्ञात छात्रों पर केस दर्ज किया है.

 CAA हिंसा: दंगाइयों पर योगी सरकार का सख्त एक्शन जारी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश पुलिस ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) के 10,00 अज्ञात छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस ने बताया कि 15 दिसंबर को कैंपस में प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा के मामले में यह केस दर्ज किया गया है. आपको बताते दें कि 15 दिसंबर को कैंपस में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी के विरोध में काफी बवाल मचा था और कथित छात्रों ने पुलिस पर हिंसात्मक हमला किया था.

 15 दिसंबर को हुई थी हिंसा

ANI के अनुसार 15 दिसंबर को कैंपस में प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा के मामले में यह केस दर्ज किया गया है. अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में 15 दिसंबर को हिंसात्मक विरोध प्रदर्शन देखने को मिला था. 15 दिसंबर को कैंपस में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और NRC के विरोध में एएमयू कैंपस में भारी बवाल हुआ था. 15 दिसंबर को हुए प्रदर्शनों के दौरान सरकारी संपत्तियों को भारी नुकसान हुआ था. हिंसा के दौरान 3 छात्र घायल भी हो गए थे.

एक्शन में सीएम योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शनकारियों पर अपनी सरकार की कार्रवाई को सही ठहराया है. 'योगी आदित्यनाथ ऑफिस' नाम के ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया कि  'दंगाईयों के खिलाफ CM योगी आदित्यनाथ सरकार के रौद्र रूप को देख हर उन्मादी यही सोच रहा है कि उन्होंने योगी जी की सत्ता को चुनौती देकर बहुत बड़ी गलती कर दी है. दंगाइयों के खिलाफ सरकार जिस तरह की कार्रवाई कर रही है वो पूरे देश में एक मिसाल बन चुकी है.'

नुकसान की भरपाई के लिये पुलिस ने कमर कसी

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, 19 दिसंबर को हुई हिंसा के बाद पुलिस ने उपद्रवियों को सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से चिन्हित किया है और इसी के आधार पर उन पर कार्रवाई भी शुरू कर दी गई है.  यूपी पुलिस ने ऐसे लोगों को चिन्हित कर उन पर जुर्माना लगाकर, उन्हें वसूली नोटिस भेजना शुरू कर दिया है. जुर्माना नहीं चुकाने पर संपत्ति को कुर्क करने की बात हो रही है. 

घटनास्थलों से 35 तमंचे हुए थे बरामद

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में बीते 10 दिसंबर से अब तक उत्तर प्रदेश के 22 जिलों में प्रदर्शन, आगजनी, तोड़फोड़ व फायरिंग की घटनाएं सामने आईं. डीजीपी मुख्यालय के अनुसार हिंसा के दौरान 288 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं, जिसमें 61 पुलिसकर्मी फायर आर्म्स से घायल हुए हैं. घटनास्थलों से 647 नॉन प्रतिबंधित बोर (315 बोर, 12 बोर) के खोखा कारतूस, 69 कारतूस और 35 तमंचे बरामद हुए थे.

क्लिक करें- नागरिकता कानून पर इस जुमा नियंत्रण में रही स्थिति, तनाव रहा बरकरार