कांग्रेस नेता अजय माकन ने लगाया परिवार की गिरफ्तारी का आरोप

कांग्रेस नेता अजय माकन ने आरोप लगाया है कि उनके परिवार को गिरफ्तार कर लिया गया है और इस तरह उनसे बदला लिया जा रहा है..  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 19, 2019, 10:42 PM IST
    • माकन ट्वीट कर लगाया आरोप
    • मंडी हाउस क्षेत्र धारा 144 के घेरे में
    • दिल्ली में कई मेट्रो स्टेशंस बंद
    • चल रहा है देश के महानगरों में विरोध प्रदर्शन
कांग्रेस नेता अजय माकन ने लगाया परिवार की गिरफ्तारी का आरोप

नई दिल्ली. देशभर में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ चल रहा विरोध प्रदर्शन आज भी जारी है. वैसे तो बार बार बताने की जरूरत नहीं है कि कौन हैं वो लोग जो सड़कों पर हिंसा कर रहे हैं. इसी तरह ये बात भी सब जानते हैं कि इस देशव्यापी हिंसा के पीछे कौन है. कांग्रेस नेता अजय माकन ने आरोप लगाया है कि उनके परिवार को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. 

ट्वीट कर लगाया आरोप 

कांग्रेस नेता अजय माकन ने आज दोपहर ट्वीट करके इस बारे में जानकारी दी और सरकार पर उनका बदला उनके परिवार से लेने का आरोप लगाया है. माकन ने ट्वीट कर कहा कि मंडी हाउस से उनके बेटे को और मंदिर मार्ग से उनकी पत्नी और बेटी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. 

मंडी हाउस क्षेत्र धारा 144 के घेरे में 

दिल्ली में नागरिकता विरोधी आंदोलन की लपटें चारों ओर फ़ैल गई हैं. दिल्ली के मंडी हाउस इलाके में भी धारा 144 लगा दी गई है और यहां से अजय माकन के अठारह साल के बेटे साहिल माकन को गिरफ्तार किया गया है जबकि मंदिर मार्ग थाना पुलिस ने उनकी पत्नी और बेटी को गिरफ्तार किया है.

दिल्ली में कई मेट्रो स्टेशन बंद 

 दिल्ली में नागरिकता क़ानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन को देखते हुए जामिया मिल्लिया इस्लामिया, जसोला विहार, शाहीन बाग और मुनिरका मेट्रो स्टेशन पर आवाजाही बिलकुल रोक दी गई है. इन चार स्टेशनों को बंद किए जाने के बाद डीएमआरसी ने लाल किला, जामा मस्जिद, चांदनी चौक, विश्वविद्यालय, पटेल चौक, लोक कल्याण मार्ग, उद्योग भवन, आईटीओ, प्रगति मैदान और खान मार्केट मेट्रो स्टेशन भी बंद कर दिए हैं.  आज इन स्टेशनों पर ट्रेन नहीं रुकेगी.  

चल रहा है देश के महानगरों में विरोध प्रदर्शन  

देश के कई बड़े शहर इस कानून के विरोध में हो रहे प्रदर्शन की लपटे में हैं. वैसे तो कल शाम तक प्रशासन ने तीन शहरों दिल्ली, लखनऊ और बेंगलुरू में प्रदर्शन न देने का निर्णय किया था. इसी तरह  मुंबई, चेन्नई, पुणे, हैदराबाद, नागपुर, भुवनेश्वर, कोलकाता, भोपाल और पटना में भी विरोध हो रहा है. जबकि राजेंद्र नगर और दरभंगा में कम्युनिस्ट संगठनों ने रेलों की आवाजाही रोक दी है. 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़