झारखंड और कर्नाटक में भूकंप के झटकों से सहमे लोग

कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच देश में बार बार भूकंप के झटकों से जूझना पड़ रहा है. इस बार झारखण्ड और कर्नाटक के कुछ हिस्सों में झटके महसूस किए गए.  

झारखंड और कर्नाटक में भूकंप के झटकों से सहमे लोग

नई दिल्ली: लॉकडाउन के दौरान लगातार आ रहे भूकंप के झटकों से लोग सहमे और डरे हुए हैं. शुक्रवार सुबह झारखण्ड और कर्नाटक में भूकम्प के झटकों से हाहाकार मच गया. संतोष की बात ये है कि किसी भी प्रकार की जानमाल की कोई खबर नहीं है लेकिन भूकम्प ने लोगों में डर भर दिया है. जिन जगहों पर झटके महसूस किए गए वहां पर लोग अपने घरों से बाहर निकल आये. देश में पहले से ही कोरोना वायरस की भीषण महामारी से लोग भयाक्रांत हैं और लोगों में इसके वीभत्स स्वरूप और बढ़ते मरीजों की संख्या को देखकर डर बढ़ रहा है. ऊपर से भूकम्प की घटनाएं भी आम लोगों में पैनिक उत्पन्न कर रही हैं.

4 के आसपास रही भूकम्प की तीव्रता

 

झारखंड  और कर्नाटक  में शुक्रवार की सुबह-सुबह भूकंप के झटके में महसूस किए गए. कर्नाटक में आए भूकंप की तीव्रता 4.0 तो झारखंड में 4.7 तीव्रता रही. झारखंड में आए भूकंप का केंद्र जमशेदपुर ही रहा. भूकंप के बाद लोगों में दहशत पैदा हो गई. झारखण्ड में जमशेदपुर और कर्नाटक के हम्पी में ये झटके महसूस किए गए हैं.

सुबह सात बजे के आसपास आया भूकम्प

बताया जा रहा है कि सुबह सुबह भूकम्प के झटके महसूस किए गए हैं. जमशेदपुर में सुबह 6 बजकर 55 मिनट सुबह भूकंप आया था और ठीक इसी समय कर्नाटक के हम्पी में भी भूकंप के झटके लोगों ने महसूस किए.

ये भी पढ़ें- राजौरी: सुरक्षाबलों ने ढेर किया एक आतंकी, सर्च ऑपरेशन जारी

दो दिन पहले दिल्ली में भी आया था भूकंप

आपको बता दें कि बुधवार को दिल्ली सहित राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. भूकंप का केंद्र दक्षिण पूर्व नोएडा रहा. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार, भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.2 मापी गई. दिल्ली में तो पिछले दो महीने में लगभग 5  बार भूकंप के झटके लग चुके हैं. गौरतलब है कि राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के मुताबिक दिल्ली-एनसीआर में 12, 13 और 16 अप्रैल को भूकंप के झटके लग चुके हैं. इसके अलावा बुधवार को भी हल्के झटके महसूस किए गए थे.