क्या है राज्य सरकारों की चिंता बढाने वाली बीमारी ब्लैक फंगस? जानिये लक्षण और बचाव के तरीके

लाखों लोग इस समय एक तरफ कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं और अस्पतालों में दम तोड़ने को मजबूर हैं तो वहीं अब ब्लैक फंगस भी विकराल रूप लेता नजर आ रहा है.

Written by - Adarsh Dixit | Last Updated : May 15, 2021, 10:21 PM IST
  • ब्लैक फंगस से बचने का तरीका
  • जानिये कैसे दिखते हैं लक्षण
क्या है राज्य सरकारों की चिंता बढाने वाली बीमारी ब्लैक फंगस? जानिये लक्षण और बचाव के तरीके

नई दिल्ली: अंग्रेजी में एक कहावत है Prevention is better than cure. इसका अर्थ है पहले से सावधान रहना सबसे बेहतर होता है. लाखों लोग इस समय एक तरफ कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं और अस्पतालों में दम तोड़ने को मजबूर हैं तो वहीं अब ब्लैक फंगस भी विकराल रूप लेता नजर आ रहा है.

कोरोना के मरीज जब इस वायरस के खिलाफ जंग जीत जाते हैं तो उनमें ब्लैक फंगस के लक्षण दिख रहे हैं. 

कई कोरोना पीड़ितों में इसके लक्षण देखे जा रहे हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और राज्य सरकारें इस बीमारी पर गंभीर हो गयी हैं और विशेष दिशा निर्देश भी जारी किए गए हैं. 

जानिये क्या है ब्लैक फंगस

कोरोना की भयावह और वीभत्स दूसरी लहर के प्रकोप के बीच ब्लैक फंगस को म्यूकरमाइकोसिस भी कहा जा सकता है. इसके बढ़ते मामलों का पता लगाने की कोशिश की जा रही है.

 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने लोगों को ब्लैक फंगस के शुरुआती लक्षणों की पहचान कर इससे बचने की सलाह दी है, जो कि मुख्यतौर पर महाराष्ट्र में कई मरीजों में देखे गए हैं.

म्यूकरमाइकोसिस यानी ब्लैक फंगस एक ऐसा फंगल इंफेक्शन है जिसे कोरोना वायरस ट्रिगर करता है.  कोविड-19 टास्क फोर्स के एक्सपर्ट्स का कहना है कि ये उन लोगों में आसानी से फैल जाता है जो पहले से किसी ना किसी बीमारी से जूझ रहे हैं और जिनका इम्यून सिस्टम कमजोर होता है. इन लोगों में इंफेक्शन से लड़ने की क्षमता कम होती है.

बरेली में एक में ब्लैक फंगस पाया गया है, उसे दो सप्ताह पहले कोरोना संक्रमण हो गया था. उपचार के लिए एक अस्पताल में भर्ती रहने के बाद जब उसकी रिपोर्ट निगेटिव आ गई तो परिजन घर ले आए थे, लेकिन अब महिला को ब्लैक फंगस ने घेर लिया है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने किया राज्यों को सचेत

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक पोस्ट में बताया कि जागरूकता और शुरुआती लक्षणों की पहचान कर इसके खतरे से बचा जा सकता है.

म्यूकरमाइकोसिस के मामले अब महाराष्ट्र के अलावा दूसरे राज्यों में भी मिलने लगे हैं. इस वक्त गुजरात, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, छत्तीसगढ़, झारखंड और राजस्थान में ब्लैक फंगस के मामले देखे जा रहे हैं.

जानिये कैसे दिखते हैं लक्षण

ब्लैक फंगस में मुख्य रूप से कई तरह के लक्षण देखे जाते हैं. आंखों में लालपन या दर्द, बुखार, सिरदर्द, खांसी, सांस में तकलीफ, उल्टी में खून या मानसिक स्थिति में बदलाव से इसकी पहचान की जा सकती है. इसलिए इन लक्षणों पर बारीकी से गौर करना चाहिए.

स्वास्थ्य विशेषज्ञ बताते हैं कि हवा में फैले रोगाणुओं के संपर्क में आने से कोई व्यक्ति फंगल इंफेक्शन का शिकार हो सकता है. ब्लैक फंगस मरीज की स्किन पर भी विकसित हो सकता है. स्किन पर चोट, रगड़ या जले हुए हिस्सों से ये शरीर में दाखिल हो सकता है.

- बुखार आ रहा हो, सिरदर्द हो रहा हो, खांसी हो, सांस फूल रही हो.
- नाक बंद हो, नाक में म्यूकस के साथ खून आ रहा हो.
- आंख में दर्द हो, आंख फूल जाए, दो दिख रहा हो या दिखना बंद हो जाए.
- चेहरे में एक तरफ दर्द हो, सूजन हो या सुन्न हो (छूने पर छूने का अहसास ना हो).
- दांत में दर्द हो, दांत हिलने लगें. चबाने में दर्द हो.
- उल्टी में या खांसने पर बलगम में खून आये.

ये भी पढ़ें- पिता के जनाजे से पहले कर्म को वरीयता, कोरोना योद्धा इमरान ने पेश की अनूठी मिसाल

ब्लैक फंगस से बचने का तरीका

गौरतलब है कि ब्लैक फंगस से बचने के लिए धूल वाली जगहों पर मास्क पहनकर रहें. मिट्टी, काई या खाद जैसी चीजों के नजदीक जाते वक्त जूते, ग्लव्स, फु स्लीव्स शर्ट और ट्राउजर पहनें. साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें. डायबिटीज पर कंट्रोल, इम्यूनोमॉड्यूलेटिंग ड्रग या स्टेरॉयड का कम से कम इस्तेमाल कर इससे बचा जा सकता है.

उत्तरप्रदेश सरकार ने जारी एडवाइजरी

म्यूकरमाइकोसिस यानी ब्लैक फंगस ने पूरे उत्तर प्रदेश में पैर पसारने शुरू कर दिए हैं. प्रदेश में इसके रोज दर्जनों मरीज निकल रहे हैं जिसमे कई मरीजो के जबड़े को निकाल दिया जा रहा है, आंखे निकाल दी जा रही है और कुछ की तो मौत की भी खबर है.

राज्य की योगी सरकार ने ब्लैक फंगस को लेकर एडवाइजरी जारी की है जिसमें कहा गया है कि कोविड-19 संक्रमण के उपरान्त ब्लैक फंगस या म्यूकरमाइकोसिस चेहरे नाक, साइनस, आंख और दिमाग में फैलकर उसको नष्ट कर देती है.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़