CAA पर बवाल: ये है जबलपुर हिंसा का मास्टरमाइंड

नागरिकता संशोधन कानून की आड़ में मध्यप्रदेश के जबलपुर में भी उपद्रवियों ने जमकर हिंसा फैलाई थी. इस हिंसा के पीछे मास्टरमाइंड का नाम सामने आ चुका है. हालांकि आरोपी इरफानुल हक अबतक पुलिस के शिकंजे से बाहर है.

CAA पर बवाल: ये है जबलपुर हिंसा का मास्टरमाइंड

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून को लेकर 20 दिसंबर को मध्य प्रदेश (एमपी) के जबलपुर में हुए उपद्रव का जो मास्टरमाइंड था, उसका नाम सामने आ चुका है. जबलपुर में हिंसा फैलाने वाला SDPI यानी सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया का प्रदेश अध्यक्ष इरफानुल हक बताया जा रहा है. जो अब तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

जबलपुर के एसपी अमित सिंह ने दी जानकारी

जबलपुर के एसपी अमित सिंह ने बताया कि 'SDPI संगठन के जो प्रदेश अध्यक्ष हैं इरफानुल हक इस प्रकरण में उनको आरोपी बनाया गया है, और नामजद किया गया है. उसकी भूमिका की जांच की जाएगी. संगठन के और लोग भी जो इसमें शामिल होंगे उनके खिलाफ कार्रवाई होगी.'

मामले में अबतक 700 लोगों पर FIR

इस मामले में पुलिस ने अब तक 700 से ज्यादा लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है. उपद्रव में बड़ी संख्या में पुलिसवाले भी घायल हुए थे, इसके साथ ही उपद्रवियों ने सरकारी संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया था. पुलिस तभी से लगातार इन उपद्रवियों की तलाश में जुटी हुई थी. और वीडियो और फोटो के आधार पर कुछ संदिग्ध लोगों को हिरासत में भी लिया था.

एक तरफ जबलपुर पुलिस उपद्रवियों की जांच कर रही थी. इसी दौरान पुलिस के हाथ एक वीडियो लगा, जिसमें एक शख्स जबलपुर में 20 दिसंबर को हुए प्रदर्शन को लेकर उपद्रवियों का धन्यवाद करता हुआ नजर आया. बताया जा रहा है ये वीडियो किसी और का नहीं बल्कि इरफानुल हक का ही जिसने उपद्रवियों को दंगा भड़काने के लिए उकसाया था.

वीडियो में दंगा भड़का रहा है आरोपी इरफानुल

आरोपी इरफानुल हक इस वीडियो में कहता दिखाई दे रहा है कि 'एक प्रदर्शन CAA, नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ निकाला गया. अमित शाह जो लगातार एनआरसी को लेकर पूरे भारत में भय दिखा रहे हैं. इसके विरोध में ये रैली थी. हम तमाम आए हुए लोगों का शुक्रिया अदा करते हैं.'

इसे भी पढ़ें: दंगाई ब्रिगेड पर कसता जा रहा कानूनी शिकंजा! यूपी हिंसा की SIT जांच के निर्देश

पुलिस के हाथ जैसे ही यह पुख्ता सबूत लगा और एक टीम बनाकर जांच शुरु कर दी गई. पुलिस ने इरफानुल हक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है, और फरार आरोपी की तलाश में जुटी है. पुलिस का दावा है कि जल्द ही इरफानुल हक को गिरफ्ता कर लिया जाएगा.

इसे भी पढ़ें: UP में दंगाइयों पर हुए एक्शन के 5 बड़े अपडेट