UP में दंगाइयों पर हुए एक्शन के 5 बड़े अपडेट

यूपी के अलग-अलग हिस्सों में हिंसा की आग सुलगाने वालों की अब खैर नहीं है. क्योंकि योगी सरकार ने अपनी कमर कस ली है और किसी भी कीमत पर दंगाइयों को नहीं छोड़ने वाली है. उग्र भीड़ ने जमकर उपद्रव फैलाने की कोशिश की थी.

UP में दंगाइयों पर हुए एक्शन के 5 बड़े अपडेट

नई दिल्ली: यूपी में हिंसक प्रदर्शन के दौरान सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने के मामले में पुलिस ने 498 लोगों की संपत्ति को जब्त करने की तैयारी कर ली है. इन सभी लोगों को नोटिस भेजा गया है. यानी अब दंगा करने वालों की खैर नहीं है.

1). नागरिकता कानून के खिलाफ यूपी में हिंसक प्रदर्शन करने वालों पर बड़ी कार्रवाई शुरू

उत्तर प्रदेश सरकार नागरिकता संशोधन कानून की आड़ में दंगा भड़काने वालों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है. योगी सरकार एक-एक चेहरों की पहचान और उनपर कार्रवाई करने के पूरे मूड में दिखाई दे रही है.

2). सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने के आरोप में सरकार ने 498 लोगों को नोटिस

यूपी में नागरिकता कानून के खिलाफ हिंसा फैलाने वालों ने सार्वजनिक संपत्तियों को खूब नुकसान पहुंचाया था. जगह-जगह आगजनी और पत्थरबाजी से काफी क्षति हुई थी. जिसके भुगतान के लिए अबतक सरकार ने 498 लोगों को नोटिस भेजा है.

बड़ा खुलासा: CAA की आड़ में हुई लखनऊ हिंसा का कश्मीर कनेक्शन

3). ज़ुर्माना नहीं भरने वालों की संपत्ति को जब्त करने की तैयारी में यूपी सरकार

इस कार्रवाई में सबसे बड़ी बात है कि सरकार किसी भी कीमत पर दंगाइयों को बख्शने वाली नहीं है. अगर दंगाइयों ने जुर्माना नहीं भरा तो सरकार ने संपत्ति जब्त करने की तैयारी कर ली है.

उत्तर प्रदेश में सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों पर योगी सरकार का कहर

4). प्रदर्शन के दौरान हिंसा फैलाने के आरोप में पुलिस ने अब तक 1113 लोग गिरफ्तार

प्रदर्शन में प्रदेश को जलाने वालों की अब खैर नहीं है. पुलिस पहचान करके हर दंगाइयों की धर-पकड़ कर रही है. अबतक पुलिस ने हिंसा फैलाने के आरोप में कुल 113 लोगों को गिरफ्तार किया है.

हिंसा की टेंशन देने वालों पर अब एक्शन! दंगाइयों से निपटने का 'योगी मॉडल'

5). सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डालने वाले 120 लोगों को किया गया गिरफ्तार

यूपी में हिंसा भड़कने के पीछे सोशल मीडिया का भी खूब इस्तेमाल किया गया. जिसके चलते कई जिलों के इंटरनेट शटडाउन करने पड़े थे. ऐसे में पुलिस ने 120 लोगों को भड़काऊ पोस्ट लिखने के आरोप में दबोचा है.

इसे भी पढ़ें: यूपी हिंसा पर एक और बड़ा खुलासा, ISI कनेक्शन आया सामने