Farmers Protest: ज़ी हिन्दुस्तान का किसान संवाद, 20 घंटे में हो सकता है समाधान!

किसान  आंदोलन के समाधान के लिए ज़ी हिंदुस्तान ने विशाल किसान संवाद का आयोजन किया. जिसमें केन्द्र सरकार के मंत्रियों के साथ किसानों ने भी शिरकत की.   

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 17, 2020, 08:26 AM IST
  • ज़ी हिन्दुस्तान ने जगाई आस
  • 20 घंटे में बनेगी बिगड़ी बात !
  • किसानों के सवाल, केंद्रीय मंत्रियों के जवाब
Farmers Protest: ज़ी हिन्दुस्तान का किसान संवाद, 20 घंटे में हो सकता है समाधान!

नई दिल्ली: ज़ी हिंदुस्तान अन्नदाता की सबसे सटीक और सबसे बुलंद आवाज़ हैं. हमें परवाह है, कड़ाके की सर्दी में खुले आसमान के नीचे आंदोलन करने वाले हमारे किसानों की. इसलिए विरोध प्रदर्शन के इक्कीसवें दिन ज़ी हिन्दुस्तान ने संवाद का ऐसा सेतु बनाया जिससे अगले बीस घंटों में समाधान का रास्ता निकलता हुआ दिखाई दे रहा है.

किसी भी संवाद से सुलह का हमारा लक्ष्य और संकल्प नतीजे तक पहुंच सकता है.

ज़ी हिन्दुस्तान का 'सेतु सम्मेलन'
देश के अन्नदाता को आंदोलन करते हुए इक्कीस दिन हो गए. लेकिन किसान-सरकार संवाद में बात बनते बनते बिगड़ती गई. ऐसे में ज़ी हिन्दुस्तान बना संवाद से सुलह का सबसे बड़ा मंच. हमने संवाद के बीच विवाद की दीवार को गिराया. सरकार और किसान से संवाद पर सीधा सवाल किया. 

ज़ी हिन्दुस्तान के किसान संवाद में केन्द्र सरकार के कई अहम मंत्रीगण शामिल हुए. ये हैं-

- स्मृति ईरानी
- कैलाश चौधरी
- सोम प्रकाश
- संजीव बालियान

ज़ी हिंदुस्तान से संवाद के दौरान केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कृषि बिल के विषय में 10 बड़ी बातें कही-

1. किसानों को संरक्षित करने वाला क़ानून
2. कांग्रेस ने मंडियां बंद होने का भ्रम फैलाया
3. कांग्रेस ने MSP को लेकर भी भ्रम फैलाया
4. आंदोलन में पंजाब सरकार ने ताकत झोंकी
5. जनता विपक्ष की चाल को समझती है
6. कृषि बिल पर चर्चा के दौरान विदेश घूम रहे थे राहुल
7. किसानों के कंधे पर रखी गई राजनीतिक बंदूक
8. किसानों के बहाने रची गई मोदी विरोधी साजिश
9. अरविंद केजरीवाल ने किया झूठा अनशन
10. पीएम मोदी पर किसानों का विश्वास है

समाधान के पक्ष में किसान भी दिखे
एक तरफ़ मोदी सरकार के मंत्री भी खुले दिल से किसान संवाद में शामिल हुए. दूसरी तरफ़  किसान भी लड़ने-अड़ने और झगड़ने से अलग संवाद के पक्ष में दिखाई दिए. ज़ी हिन्दुस्तान की मुहिम का किसानों ने खुशी खुशी स्वागत किया. यानी तकरार की दीवार टूटने और संवाद से सुलह की आस फिर बंधने लगी है. 

ये भी पढ़ें- किसान आंदोलन पर भ्रमजाल किसने फैलाया 

देश और दुनिया की हर एक खबर अलग नजरिए के साथ और लाइव टीवी होगा आपकी मुट्ठी में. डाउनलोड करिए ज़ी हिंदुस्तान ऐप, जो आपको हर हलचल से खबरदार रखेगा... नीचे के लिंक्स पर क्लिक करके डाउनलोड करें-

Android Link - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.zeenews.hindustan&hl=en_IN

iOS (Apple) Link - https://apps.apple.com/mm/app/zee-hindustan/id1527717234

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़