रेप पीड़िता ने अदालत में खाया ज़हर

उन्नाव के बाद बहराइच में भी एक रेप पीड़िता के आत्महत्या के प्रयास का सनसनीखेज मामला सामने आया है

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 17, 2019, 07:41 PM IST
    • रेप पीड़िता ने अदालत में खाया ज़हर
    • पुलिस के निकम्मेपन के कारण खाया पीड़िता ने जहर
    • आरोपी लगातार दे रहा था जान से मारने की धमकी
    • इस बार आरोपी ने अदालत परिसर में भी दी धमकी
रेप पीड़िता ने अदालत में खाया ज़हर

बहराइच. यहां रेप के एक मुकदमे के दौरान आरोपी द्वारा जान से मारने की धमकी से परेशान होकर रेप पीड़िता ने कचहरी परिसर में ही आत्महत्या का प्रयास किया. जहरीला पदार्थ खा कर अचेत हुई  पीड़िता को वकीलों ने गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती करवा दिया है. 

पुलिस के निकम्मेपन के कारण खाया पीड़िता ने जहर 

देश की अदालतों में चल रहे सैकड़ों मामलों की तरह यह मामला भी बलात्कार का है जो कि थाना कैसरगंज इलाके से जुड़ा हुआ है. रेप-पीड़िता ने अदालत में जहर खा कर जान देने की कोशिश की. इसकी वजह साफ़ तौर पर पुलिसिया लापरवाही के रूप में सामने आ रही है. लगातार मिल रही धमकियों की शिकायत पीड़िता द्वारा कई बार पुलिस से की गई लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की. 

आरोपी लगातार दे रहा था जान से मारने की धमकी 

इस मामले में थाना कैसरगंज इलाके में 2 वर्ष पूर्व बलात्कार का मुकदमा दर्ज हुआ था और फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई चल रही थी. इस दौरान पीड़िता अकेले ही कोर्ट में सुनवाई के लिया आया जाया करती थी. पीड़िता का आरोप है कि इस केस शुरू होने के बाद से ही आरोपी लगातार उस पर मामले में सुलह लगाने का दबाव बना रहा था और सुलह न करने पर पीड़िता को जान से मारने की धमकी दे रहा था.

आरोपी ने अदालत परिसर में भी दी धमकी 

पीड़िता ने पुलिस से कई बार इसकी शिकायत की लेकिन न तो पुलिस ने संज्ञान लिया और न ही आरोपी अपनी हरकतों से बाज़ आया. इस बार कोर्ट में जिरह के लिए आई पीड़िता को कचेहरी परिसर में भी आरोपी सुलह न करने पर जान से मारने की धमकी देने लगा तब डर कर उसने वहीं पाक्सो अदालत में  जहर खा लिया. हालत बिगड़ने पर उसे तुरंत जिला अस्पताल ले जाया गया जहां उसका इलाज चल रहा है. 

आरोपी हुआ गिरफ्तार 

 फिलहाल इस मामले में थाना कैसरगंज पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है लेकिन अभी तक पीड़िता को किसी भी तरह की सुरक्षा मुहैया नहीं कराई गई है. 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़