• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 2,69,789 और अबतक कुल केस- 7,67,296: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 4,76,378 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 21,129 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 61.53% से बेहतर होकर 62.08% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 19,547 मरीज ठीक हुए
  • कोविड-19 की राष्ट्रीय रिकवरी दर 62.08% पर पहुंची; सक्रिय मामलों की तुलना में ठीक होने वाले लगभग 2 लाख ज्यादा
  • देश में प्रयोगशालाओं की कुल संख्या 1,119 हुई. पिछले 24 घंटे में 2.6 लाख से ज्यादा नमूनों की जांच की गई
  • भारतीय नौसेना का ऑपरेशन समुद्र सेतु पूरा हुआ, इसके तहत 3,992 भारतीय नागरिकों को सफलतापूर्वक स्वदेश लाया गया
  • 30 जून तक 62,870 करोड़ रुपये की क्रेडिट सीमा के साथ 70.32 लाख किसान क्रेडिट कार्ड स्वीकृत किए गए हैं
  • उत्तर प्रदेश में वर्ष 2020-21 में 1.02 करोड़ घरों में नल कनेक्शन देने की योजना है
  • आपकी सुरक्षा आपके हाथों में है, बिना मास्क/फेस कवर पहने घर से बाहर न निकलें
  • कोविड-19 से संबंधित मदद, सलाह और उपायों के लिए 24x7 टोल-फ्री राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर 1075 पर कॉल करें

खुद से नहीं संभल रहा बंगाल, अमित शाह से बोलीं ममता 'तो आप ही संभालिये बंगाल'

पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए राज्य सरकार द्वारा सार्थक और निर्णायक कदम नहीं उठाए जा रहे हैं और इसके बदले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सियासत करने संलग्न हैं.  

खुद से नहीं संभल रहा बंगाल, अमित शाह से बोलीं ममता 'तो आप ही संभालिये बंगाल'

कोलकाता: केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को कोरोना वायरस से लड़ने के लिए और लोगों को इससे महामारी से बचाने के लिए कुछ आवश्यक दिशा निर्देश जारी किये हैं. गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों से कहा है कि सामाजिक दूरी का पालन और लॉकडाउन ही कोरोना वायरस का फिलहाल इलाज है. लेकिन केंद्र सरकार की कोई भी सलाह पश्चिम बंगाल की सरकार को सूट नहीं करती क्योंकि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हर बात को सियासत और वोटबैंक के चश्मे से देखती हैं.

उन्होंने हाल ही में एक ऐसा बयान दिया है जिसकी राजनीतिक गलियारों में जमकर आलोचना हो रही है. ममता बनर्जी ने अपने आलोचना सुनकर बौखलाहट में गृहमंत्री अमित शाह से कहा कि अगर हम बंगाल को ठीक नहीं कर पा रहे हैं तो आप ही इसे संभाल लीजिये.

क्या कहा ममता बनर्जी ने

आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और गृहमंत्री अमित शाह के बीच कुछ विषयों पर बात हुई थी. उसी के बारे में ममता बनर्जी ने बताया कि मैंने अमित शाह से कहा, अगर आपको लगता है कि पश्चिम बंगाल अपने दम पर सब कुछ मैनेज नहीं कर सकता है तो आप आइए और संभालिए. इस पर अमित शाह ने तब कहा था कि चुने हुए सरकार को हम कैसे तोड़ सकते हैं, यह कहने के लिए मैं उन्हें धन्यवाद देती हूं.

ये भी पढ़ें- जम्मू कश्मीर पुलिस: बहुत खतरनाक थे आतंकियों के इरादे, एक हफ्ते से रच रहे थे साजिश

श्रमिक ट्रेनें चलने से ममता बनर्जी को दिक्कत

आपको बता दें कि केंद्र सरकार मजदूरों को उनके घर भेजने के लिए श्रमिक ट्रेनें देशभर में चला रही है. वोटबैंक के खिसकने के चक्कर में ममता बनर्जी इन ट्रेनों के संचालन में रोड़े अटका रही हैं. सियासत डूबने की आशंका में ममता बनर्जी केंद्र सरकार के कामों में अड़ंगा लगाती आ रही हैं. ममता बहाना बना रही है कि पश्चिम बंगाल अम्फान के बाद बड़ी आपदा का सामना कर रहा है और रेलवे रोजाना श्रमिक ट्रेनें भेज रहा है. इस वजह से राज्य के लोगों को और अधिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है.

हर समय सियासी बयानबाजी करती हैं ममता बनर्जी

आपको बता दें कि ममता बनर्जी अन्य राज्यों से तुलना करके पश्चिम बंगाल की समस्याओं और कोरोना की  भयावह तस्वीरों को छिपाने की कोशिश कर रही हैं. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार से कहा कि आप महाराष्‍ट्र को खाली कर रहे हैं और बंगाल में कोरोना फैला रहे हैं. पूरे बंगाल में प्रवासी मजदूरों की 11 ट्रेनें देर रात अलग-अलग स्‍थानों पर आ रही है और 17 ट्रेनें और आनी हैं. ममता ने कहा बीजेपी मुझे राजनीतिक रूप से परेशान कर सकती है. उक्त बातों से ममता बनर्जी की सियासत को  समझा जा सकता है.