India Tour of England 2021: BCCI की कोरोना पॉलिसी, जो जीता वो बनेगा सिकंदर

टीम इंडिया के खिलाड़ियों के साथ उनके परिवार वालों की भी जांच की जाएगी. मुंबई से इंग्लैंड रवाना होने से पहले खिलाड़ियों को 2 निगेटिव टेस्ट लाने होंगे. इससे ये पता करने की कोशिश करेंगे कि वे बबल में बिना इन्फेक्शन के आए हैं. बोर्ड ने खिलाड़ियों से प्राइवेट कार और हवाई जहाज से ट्रैवल करने के निर्देश दिए हैं.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : May 11, 2021, 04:19 PM IST
  • इंडिया के खिलाड़ियों को दो निगेटिव रिपोर्ट दिखाना होगी जरूरी
  • पहले मुंबई और फिर इंग्लैंड में आईसोलेट रहेंगे भारतीय खिलाड़ी
India Tour of England 2021: BCCI की कोरोना पॉलिसी, जो जीता वो बनेगा सिकंदर

नई दिल्लीः दुनिया में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने इंग्लैंड दौरे पर जाने वाले भारतीय खिलाड़ियों के लिए नई पॉलिसी बनाई है. बीसीसीआई का कहना है कि इंग्लैंड रवाना होने से पहले अगर कोई खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव आता है, तो उसको टीम से बाहर कर दिया जाएगा.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक टीम के फीजियो योगेश परमार ने खिलाड़ियों को सख्त हिदायत देते हुए कहा है कि सभी खिलाड़ी अपने आप को आइसोलेट रखें और पूरी सावधानी बरतें. बता दें कि टीम इंडिया पहले 19 मई से मुंबई में कुछ दिनों तक क्वारंटीन रहेगी. इसके बाद इंग्लैंड पहुंचकर भी विराट सेना को 10 दिन क्वारंटीन रहना होगा.

इंग्लैंड रवाना होने से पहले 2 निगेटिव टेस्ट लाने होंगे
जानकारी के मुताबिक, टीम इंडिया के खिलाड़ियों के साथ उनके परिवार वालों की भी जांच की जाएगी. मुंबई से इंग्लैंड रवाना होने से पहले खिलाड़ियों को 2 निगेटिव टेस्ट लाने होंगे. इससे ये पता करने की कोशिश करेंगे कि वे बबल में बिना इन्फेक्शन के आए हैं. बोर्ड ने खिलाड़ियों से प्राइवेट कार और हवाई जहाज से ट्रैवल करने के निर्देश दिए हैं.

यह भी पढ़िएः वर्ल्डकप से पहले लय में लौटा चैंपियंस ट्रॉफी में भारत को धूल चटाने वाला पाकिस्तानी गेंदबाज

अलग से चार्टर्ड फ्लाइट नहीं मिलेगी
BCCI ने खिलाड़ियों से ये भी कहा है कि मुंबई में कोरोना पॉजिटिव आने पर किसी भी खिलाड़ी के लिए अलग से चार्टर्ड फ्लाइट नहीं दी जाएगी. IPL 2021 में कोरोना के मामले सामने आने के बाद से बोर्ड पहले से ज्यादा सावधान हो चुका है.

बोर्ड ने सिर्फ कोवीशील्ड लगाने का निर्देश दिया
बोर्ड ने इंग्लैंड टूर पर जाने वाले खिलाड़ियों से सिर्फ कोवीशील्ड वैक्सीन का पहला डोज लेने का ही निर्देश दिया है. बोर्ड वैक्सीन के दूसरे डोज के लिए इंग्लैंड से संपर्क में है. दरअसल, इंग्लैंड में एस्ट्रेजेनेका वैक्सीन उपलब्ध है, जो कि कोवीशील्ड का वर्जन है.

बोर्ड चाहता है कि इंग्लैंड दौरे पर खिलाड़ियों को दूसरे डोज में एस्ट्रेजेनेका उपलब्ध कराया जाए. विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, ईशांत शर्मा, चेतेश्वर पुजारा और उमेश यादव जैसे खिलाड़ी पहला डोज ले चुके हैं. बोर्ड ने यह भी कहा है कि अगर किसी के शहर में वैक्सीन उपलब्ध नहीं है तो वो उनसे कहा सकता है. बोर्ड उनके लिए वैक्सीन उपलब्ध कराएगा.

यह भी पढ़िएः लगातार बढ़ रहीं ओलंपिक पदक विजेता सुशील की मुश्किलें, WFI ने भी लगाई लताड़

भारतीय टीम करीब 3 महीने इंग्लैंड में रहेगी
18 जून से होने वाले पहले ICC वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप (WTC) के फाइनल में भारत के सामने न्यूजीलैंड की चुनौती होगी. यह मैच 18 जून से 22 जून के बीच साउथैम्पटन के द एजीस बाउल (द रोज बाउल) स्टेडियम में खेला जाएगा. इसके बाद टीम इंडिया को करीब डेढ़ महीने ब्रिटेन में गुजारना है. 4 अगस्त से इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट मैचों की सीरीज की शुरुआत होगी.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़