जेम्स एंडरसन से विवाद पर बोले शार्दुल, मैंने कभी नहीं सुनी ऐसी गाली

भारत और इंग्लैंड के बीच हाल ही में खत्म हुई टेस्ट सीरीज में गेंद और बल्ले के साथ ही जुबानी जंग भी जमकर हुई. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Sep 16, 2021, 04:41 PM IST
  • शार्दुल ठाकुर का बड़ा खुलासा
  • एंडरसन ने की थी स्लेजिंग की शुरुआत
जेम्स एंडरसन से विवाद पर बोले शार्दुल, मैंने कभी नहीं सुनी ऐसी गाली

नई दिल्ली: भारत और इंग्लैंड के बीच हाल ही में खत्म हुई टेस्ट सीरीज में दोनों देशों के खिलाड़ियों के बीच जमकर कहासुनी हुई थी. इंग्लैंड के खिलाड़ी बार बार भारतीय खिलाड़ियों पर जुबानी हमले कर रहे थे और उनसे उलझ रहे थे.

इस बीच जेम्स एंडरसन और जसप्रीत बुमराह के बीच हुई कहासुनी सबसे ज्यादा विवादों में रही. 

शार्दुल ठाकुर का बड़ा खुलासा

भारत और इंग्लैंड के बीच हाल ही में खत्म हुई टेस्ट सीरीज में गेंद और बल्ले के साथ ही जुबानी जंग भी जमकर हुई. दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने एक-दूसरे के खिलाफ स्लेजिंग का कोई मौका नहीं छोड़ा. लॉर्ड्स टेस्ट में भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और जेम्स एंडरसन के बीत भी तीखी नोंकझोंक हुई थी. अब इन दोनों के बीच असल में क्या बात हुई थी, टीम इंडिया के आलराउंडर शार्दुल ठाकुर ने इसका खुलासा किया है.

शार्दुल ठाकुर ने एक इंटरव्यू में कहा कि एंडरसन ने बहुत गलत तरीके से बुमराह को निशाना बनाया और ऐसी बात कही जिसका जिक्र भी मैं नहीं कर सकता. 

एंडरसन ने की थी स्लेजिंग की शुरुआत

शार्दुल ठाकुर ने कहा कि एंडरसन पर अटैक करने की कोशिश कर रहे थे. लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान जो कुछ हुआ था, वो ओवल में भी नजर आया था. मुझे बाद में बताया गया कि एंडरसन ने बुमराह से कुछ कहा जो उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था. मुझे बताया गया था कि उन्होंने बुमराह को गाली दी थी, जिसे सबके सामने कहा भी नहीं जा सकता है. इसलिए भारतीय खिलाड़ी इस घटना के बाद आक्रामक हो गए थे और इंग्लैंड के खिलाड़ियों को उन्हीं के अंदाज में जवाब दिया था.

ये भी पढ़ें- T20 वर्ल्ड कप के लिए नहीं चुने गए चहल क्यों बोले कि वह अब पहले की तरह होंगे चतुर

हम जीतने के लिये खेलते हैं- शार्दुल

शार्दुल ठाकुर ने विदेशी गेंदबाजों पर कहा कि हम केवल मैच जीतने के लिये खेलते हैं. जब हम इंग्लैंड ऑस्ट्रेलिया जाते हैं, तो हमारे निचले क्रम के बल्लेबाजों को बाउंसर्स का सामना करना पड़ता है. ऑस्ट्रेलिया में, नटराजन को मिचेल स्टार्क और पैट कमिंस द्वारा बाउंसर फेंके गए थे.

उन्हें पता था कि इस व्यक्ति ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में भी ज्यादा बल्लेबाजी नहीं की है, तो जब विरोधी टीम के टैलेंडर्स बल्लेबाजी करने के लिए आते हैं तो हम उन्हें क्यों बाउंसर नहीं फेंक सकते हैं?. हम क्यों नहीं बॉडीलाइन गेंदबाजी करें?. हम किसी को खुश करने के लिए नहीं खेल रहे हैं. हम भी विदेश में जीतने के लिए आए हैं.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़