EPFO: आपको भी मिल सकता है 50,000 रुपये का बोनस, बस करना होगा ये काम

सभी पीएफ खाताधारकों को EDLI स्कीम के तहत 7 लाख रुपये के इंश्योरेंस का फायदा मिलता है. इसके इतर भी पीएफ खाताधारकों को Loyalty-cum-Life बेनिफिट के तहत एक बड़ा फायदा मिलता है.  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 3, 2021, 07:19 AM IST
  • जानिए कैसे मिलता है Loyalty-cum-Life बेनिफिट का लाभ
  • केंद्र सरकार ने Loyalty-cum-Life बेनिफिट को दी मंजूरी

ट्रेंडिंग तस्वीरें

EPFO: आपको भी मिल सकता है 50,000 रुपये का बोनस, बस करना होगा ये काम

नई दिल्ली: कई पीएफ खाताधारकों को EPFO के नियमों के बारे में जानकारी नहीं होती है. शायद आपको यह पता हो कि आपको अपने EPF खाते पर रिटायर्मेंट के बाद 50,000 रुपये का एडिशनल बोनस भी मिल सकता है.

कई लोग EPF से जुड़े अहम नियमों के बारे में नहीं जानते हैं, इस कारण उन्हें भारी नुकसान भी उठाना पड़ जाता है. आइए आज हम आपको बताते हैं कि कैसे आप अपने EPF खाते पर एडिशनल बोनस पा सकते हैं.  

सभी पीएफ खाताधारकों को EDLI स्कीम के तहत 7 लाख रुपए के इंश्योरेंस का फायदा मिलता है. इसके इतर भी पीएफ खाताधारकों को  Loyalty-cum-Life बेनिफिट के तहत एक बड़ा फायदा मिलता है, जिसके तहत खाताधारक को रिटायरमेंट के समय 50,000 रुपये एडिशनल बोनस के रूप में दिए जाते हैं.

कैसे मिलता है Loyalty-cum-Life बेनिफिट का लाभ

कई ऐसे लोग हैं, जो समय-समाय पर नौकरी बदलते रहते हैं, लेकिन वे लगातार अपने EPF खाते में अंशदान नहीं करते हैं. लेकिन अगर आप नौकरी बदलने के बाद भी लगातार 20 सालों तक एक ही EPF खाते में अंशदान जमा करते रहते हैं, तो आप Loyalty-cum-Life बेनिफिट के तहत 50,000 रुपये के एडिशनल बोनस का लाभ उठा सकते हैं.

केंद्र सरकार ने Loyalty-cum-Life बेनिफिट को दी मंजूरी

CBDT ने उन पीएफ खाताधारकों से यह अनुरोध किया है कि वे ने Loyalty-cum-Life बेनिफिट का लाभ उठाएं, जिन्होंने 20 सालों तक एक ही epf अकाउंट में अंशदान दिया है.

केंद्र सरकार ने भी इसे मंजूरी दे दी है. कोई भी पीएफ खाताधारक जो इस बेनिफिट की शर्तों को पूरा करता है, वह इसका लाभ उठा सकता है.

यह भी पढ़िएः CTET Exam: इस दिन जारी होंगे एडमिट कार्ड, जानिए परीक्षा से जुड़ी अहम जानकारी

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़