Halloween Day 2021: आखिर क्यों भूत का रूप धारण करते हैं लोग? बेहद दिलचस्प है कहानी

Halloween Day 2021: हैलोवीन हर साल 31 अक्टूबर को मनाया जाता है. इस त्योहार को सभी लोग अपने-अपने अलग अंदाज में मनाते हैं.   

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Oct 24, 2021, 08:01 AM IST
  • जानिए हैलोवीन त्योहार के बारे में
  • पश्चिमी देशों में मनाया जाता है हैलोवीन
Halloween Day 2021: आखिर क्यों भूत का रूप धारण करते हैं लोग? बेहद दिलचस्प है कहानी

नई दिल्ली: Halloween Day 2021: आमतौर पर हर त्योहारों पर लोग सजते हैं और अच्छे कपड़े पहनते हैं, लेकिन एक त्योहार ऐसा है जिसे लोग भूतों के कपड़े पहनकर मनाते हैं. अब आप समझ ही गए होंगे कि हम हैलोवीन त्योहार (Halloween Day 2021) की बात कर रहे हैं. बता दें कि हैलोवीन को पश्चिमी देशों में मनाया जाता है.

कब मनाया जाता है हैलोवीन?
हैलोवीन हर साल 31 अक्टूबर को मनाया जाता है. इस त्योहार को सभी लोग अपने-अपने अलग अंदाज में मनाते हैं. बच्चों के लिए ये त्योहार चॉकलेट्स लेने का दिन है, तो वहीं बड़े लोग इसे अपने पूर्वजों की आत्मा की शांति के लिए मनाते हैं. आयरलैंड, संयुक्त राज्य अमेरिका, कनाडा, प्युर्तोरिको, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, और ऑस्ट्रेलिया समेत कई देशों में लोग इसे बड़े धूमधाम से सेलिब्रेट करते हैं. हालांकि अब भारत में भी इसका क्रेज देखने को मिलता है. हैलोवीन का दिन सेल्टिक कैलेंडर का आखिरी दिन होता है, इसलिए यूरोप में सैल्टिक जाति के लोग इस दिन को नए साल की शुरुआत के रूप में भी मनाते हैं.

कैसे शुरू हुआ हैलोवीन?
हैलोवीन डे को आल हेलोस इवनिंग, आल हैलोवीन, आल होलोस ईव और आल सैंट्स ईव भी कहा जाता है. इस दिन लोग भूतिया कपड़े पहने हैं और उसी तरह का मेकअप भी करते हैं. चलिए अब हैलोवीन की कहानी जानते हैं. सेल्टिक जाति के लोग मानते हैं कि इस दिन उनके पूर्वजों की आत्माएं आकर उनसे मिलती है. ऐसी मान्यताएं हैं कि इस दिन उनके पूर्वजों की आत्मा धरती पर आएंगी और उनका फसल काटना आसान हो जाएगा. यही कारण है कि पश्चिमी देशों के लोग जानवरों के मुखौटे, भूतिया कपड़े और डरावना मेकअप करके आग के आसपास नाचते हैं. शुरुआत में इसे ‘All Saints-Day'-All Hallows (holy) या Hallows Eve के नाम से मनाया जाता था. हालांकि बाद में इसका नाम बदलकर Halloween पड़ गया.

इस त्योहार को मनाने के पीछे यह भी मान्यता है कि फसलों के मौसम में बुरी आत्माएं धरती पर आती हैं और उनकी फसलों को नुकसान पहुंचाती हैं. इसीलिए उनको डराने के लिए लोग खुद डरावना रूप धारण करते हैं. हालांकि आज के दौर में हैलोवीन पार्टी करने का दिन बन गया है. हैलोवीन नाइट 31 अक्टूबर को मनाई जाएगी.

कैसे मनाया जाता है हैलोवीन
वैसे तो आपको हैलोवीन नाम सुनकर अटपटा लग रहा होगा, लेकिन इस दिन लोग भूतिया कपड़े पहनते हैं और लोगों के घर जाकर कैंडी उपहार में लेते हैं. इरिश की लोक कथाओं की मानें तो इस दिन जैक ओ-लैंटर्न बनाने का रिवाज है. लोग एक खोखला कद्दू लेते हैं, जिसमें वह आंख, नाक और मुंह बनाते हैं और इसके अंदर एक मोमबत्ती रखी जाती है. आखिर में इस कद्दू को लोगों द्वारा दफना दिया जाता है.

यह भी पढ़िएः Karwa Chauth 2021: 'हमें आपकी एक झलक मिल जाए....', इन Quotes & SMS के जरिए दें बधाई

दिलचस्प बात ये है कि कई जगहों पर तो हैलोवीन के दिन पार्टी की जाती है और गेम्स खेले जाते हैं. इस दिन गेम डंकिंग या एप्पल बोबिंग गेम को ज्यादा महत्व दिया जाता है. इस गेम में एक बड़े से टब में पानी भरकर उसमें सेब डाल दिए जाते हैं और इस खेल में भाग लेने वाले लोग अपनें दांतों से सेब को निकालते हैं.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़