पाकिस्तान में इमरान सरकर का तख्तापलट!

पाकिस्तान में 'गदर' का राउंड 2 बहावलपुर से शुरू होने जा रहा है. पाकिस्तान में 11 पार्टियों का विपक्षी गठबंधन पीडीएम एक बार फिर इमरान पर हल्ला बोलने जा रहा है. इस बार हल्ला बोल इतना तगड़ा होगा कि नियाजी खान सरकार छोड़कर भाग खड़ा होगा.

Written by - Rajendra Kumar | Last Updated : Jan 3, 2021, 05:50 AM IST
  • PDM की बहावलपुर में आज रैली
  • मौलाना रहमान का अल्टीमेटम
  • 31 जनवरी तक सत्ता छोड़ें इमरान खान
पाकिस्तान में इमरान सरकर का तख्तापलट!

नई दिल्ली: डीजल मौलाना यानी फजलुर रहमान की अगुवाई में पीडीएम हुंकार भरेगी लेकिन सबकी निगाहें पाकिस्तान की शेरनी मरियम पर लगी होंगी. पाकिस्तानी आवाम भी चाहती है कि मरियम का हमला इतना तीखा और तेज हो कि गीदड़ इमरान डरकर भाग खड़ा हो. लाहौर में इंकलाबी भाषण देने वाली आसिफा भुट्टो पर भी निगाहें होंगी जो पहले ही इमरान के खिलाफ यलगार कर चुकी हैं. पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के बिलावल जरदारी भी इमरान की कुर्सी पर आखिरी कील ठोंकेगे. नए पाकिस्तान का नारा देने वाले इमरान के लिए नया साल मुसीबत लेकर आया है. इमरान के तरकश में जितने तीर थे वो अब चल चुके हैं. कुर्सी बचाने की हर मुमकिशन कोशिश वो कर चुके हैं लेकिन जनवरी उन पर बहुत भारी पड़ने वाली है जब उन्हें अपना तख्तोताज बचाना मुश्किल हो जाएगा.

नया साल, इमरान सरकार के लिए बना 'काल'

नए साल की जनवरी में PDM 7 रैलियां  करने वाली है जिसमें आज पहली रैली बहावलपुर में हो रही है जबकि आखिरी रैली 31 जनवरी को फैसलाबाद में होगी . 7 रैलियों में 4 पंजाब सूबे में रखी गई हैं जहां मरियम नवाज की जबरदस्त पकड़ है जबकि इमरान की पकड़ वाले खैबर पख्तूनख्वा में भी पीडीएम दो रैलियां करेगा और एक रैली बलूचिस्तान में होनी है लेकिन बिलावल भुट्टो की पकड़ वाले सिंध प्रांत में जनवरी में कोई रैली नहीं रखी गई है . हालांकि सभी 7 रैलियों में बिलावल भुट्टो की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी शामिल रहेगी.  

पहली रैली – आज - बहावलपुर, पंजाब
दूसरी रैली-  6 जनवरी- बानू, खैबर पख्तूनख्वा
तीसरी रैली- 11 जनवरी- मलाकंड, खैबर पख्तूनख्वा
चौथी रैली- 13 जनवरी- लोरालाय, बलूचिस्तान
पांचवीं रैली- 23 जनवरी- सरगोधा, पंजाब
छठी रैली- 30 जनवरी- सियालकोट, पंजाब
सातवीं रैली- 31 जनवरी- फैसलाबाद, पंजाब

इसे भी पढ़ें- Pakistan:मौलवियों ने तुड़वाई हिंदू संत की समाधि, मंदिर में लगाई आग

इमरान पर मरियम का ‘वार’ मौलाना का प्रहार

इसके अलावा पीडीएम खुजदार, थारपारकर और झोब में भी रैलियां करने का प्लान बना रहा है। पीडीएम की कोशिश है कि आवाम के साथ साथ धार्मिक नेताओं और अलग-अलग कम्युनिटी के नेताओं को भी पीडीएम से जोड़ा जाए ताकि इमरान सरकार और पाकिस्तानी फौज पर इतना दबाव बनाया जा सके कि इमरान 31 जनवरी तक गद्दी छोड़कर भाग खड़ा हो.

अब विपक्ष इमरान खान को नालायक और बेअक्ल प्रधानमंत्री बता रहा है तो पाकिस्तानी आवाम तालियां पीट रही है मतलब साफ है कि पाकिस्तान में इमरान की लोकप्रियता रसातल में जा चुकी है जबकि मरियम और मौलाना की लोकप्रियता का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है.

पीडीएम के कन्वीनर मौलाना फजलुर रहमान कहते हैं कि इमरान ने खुद कबूल कर लिया है कि उनके पास सरकार चलाने के लिए काबिल लोगों की टीम ही नहीं है. मरियम ने और कड़ी चोट करते हुए कहा कि अगर इमरान को सरकार चलाने का शऊर नहीं था तो फिर सरकार क्यों बनाई . मरियम कहती हैं कि अब इमरान को जवाब देना पड़ेगा कि 22 करोड़ पाकिस्तानियों की जिंदगी उसने क्यों बर्बाद की . डीजल मौलाना कहते हैं कि सत्ता में आने से पहले इमरान खान वादा करता था कि पाकिस्तान में अगर उसकी हुकूमत आई तो दूध की नदियां बहेंगी लेकिन ढाई साल बाद आलम ये है कि लोगों को सूखी रोटी के लाले पड़े हैं.

पाकिस्तान का आटा किसने चुराया?

पाकिस्तान का चीनी चोर कौन?

इमरान खान पाकिस्तानी आवाम को चीख चीख कर बताता है कि वो इमानदार है और उससे पहले की सरकारें बेईमान थीं इसीलिए पाकिस्तान का ये हाल हुआ है. इमरान पाकिस्तान की गुरबत के लिए नवाज शरीफ और जरदारी की सरकारों को जिम्मेदार ठहराया था लेकिन मरियम ने उसकी ईमानदारी पर ही हमला कर इमरान को हिटविकेट कर दिया.

मरियम नवाज ने इमरान को चीनी चोर कहा तो मौलाना ने इमरान को आटा चोर बोला. बिलावल ने उसे गैस चोर कहा. गैस का आलम ये है कि अब सिंध प्रांत में हजारों फैक्ट्रियों को गैस की सप्लाई बंद कर दी गई है. नोटिस देकर इमरान सरकार ने कह दिया है कि एक महीने तक उन्हें गैस नहीं मिलेगी. इससे हजारों लोगों के बेरोजगार होने का खतरा है और निर्यात पर भी इसका भारी असर पड़ेगा जिससे पाकिस्तान में महंगाई दर भी बढ़ सकती है.

इसे भी पढ़ें- Pakistan: हिन्दू मन्दिर में मुस्लिम कट्टरपंथियों ने लगाई आग, इमरान सरकार की दुनियाभर में 'थू-थू'

पीडीएम के मंच से नेताओं ने ऐलान किया कि जब इस्लामाबाद में हुकूमत बदलेगी तो इमरान खान को पूरा हिसाब देना होगा. पीडीएम पुरजोर आवाज बुलंद कर रही है कि पाकिस्तान की बदनसीबी इमरान की वजह से है . पीडीएम आवाम को समझा रही है कि पाकिस्तान में जो हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं वो इमरान की वजह से हैं. मरियम नवाज और मौलाना ने सेना पर भी हमला बोला. सेना पहले से विपक्ष के निशाने पर है जो आरोप लगाता है कि इमरान को धांधली कर बाजवा सत्ता में लाया है ताकि वो अपनी कुर्सी बचाए रखे. लेकिन डीजल मौलाना ने बेहद सख्त लहजे में कहा कि बाजवा को भी हिसाब देना होगा. पाकिस्तान की बर्बादी का जितना कसूरवार सेलेक्टेड इमरान है उतना ही उसे सत्ता में लाने वाला आर्मी चीफ बाजवा. पाकिस्तान में यलगार हो चुका है और अब इमरान के लिए एक एक दिन भारी है.

इसे भी पढ़ें- दुनिया ने माना, मोदी है तो मुमकिन है!

देश और दुनिया की हर एक खबर अलग नजरिए के साथ और लाइव टीवी होगा आपकी मुट्ठी में. डाउनलोड करिए ज़ी हिंदुस्तान ऐप, जो आपको हर हलचल से खबरदार रखेगा... नीचे के लिंक्स पर क्लिक करके डाउनलोड करें-

Android Link - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.zeenews.hindustan&hl=en_IN

iOS (Apple) Link - https://apps.apple.com/mm/app/zee-hindustan/id1527717234

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़