बांका: 4500 रुपए के लिए दुकानदार की हत्या, आक्रोशित लोगों ने सड़क किया जाम

मृतक के बड़े भाई रौशन कुमार ने कहा कि रवि कुमार हमारी चाय की दुकान पर हमेशा आते थे. उनके पास हमारे दुकान से लिए गए समानों का 4500 रुपए बकाया था. 

बांका: 4500 रुपए के लिए दुकानदार की हत्या, आक्रोशित लोगों ने सड़क किया जाम
चाय दुकानदार की अपहरण करके हत्या कर दी गई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बांका: बिहार के बांका जिले में एक चाय दुकानदार का अपहरण कर गोली मारकर हत्या कर दी गई. घटना के बाद अमरपुर के दुकानदारों में काफी आक्रोश है. आक्रोशित दुकानदारों ने अमरपुर बस स्टैंड के पास टायर जलाकर मुख्य मार्ग को घंटों जाम कर विरोध प्रदर्शन किया.

दुकानदारों का कहना है कि हम लोग होटल चलाकर अपने परिवार का भरण-पोषण करते आ रहे हैं. बस स्टैंड पर दुकान रहने की वजह से देर रात तक दुकाने खुली रहती हैं. उन लोगों ने कहा कि जिस तरह चाय दुकानदार रितेश का अपराधियों ने अपहरण करके हत्या कर दी. इससे सारे दुकानदार भयभीत हो गए हैं.

उनका कहना है कि आखिर हम दुकानदारों की सुरक्षा कौन करेगा. वहीं, मृतक के बड़े भाई रौशन कुमार ने कहा कि रवि कुमार हमारी चाय की दुकान पर हमेशा आते थे. उनके पास हमारे दुकान से लिए गए समानों का 4500 रुपए बकाया था. 

रौशन ने कहा कि दो दिन पहले जब मैंने पैसे का तकादा किया तो रवि ने गाली- गलौज करते हुए अंजाम भुगतने का धमकी दे दिया. मृतक के भाई ने कहा कि रविवार को रात करीब साढ़े आठ बजे दुकान पर रितेश को बैठाकर घर आ गया.

इसी बीच रवि फिर से दुकान पर आ गया. इसके बाद मेरे भाई ने पैसे की तकादा किया तो, रवि अपने अपराधी दोस्तों के सहयोग से उसका अपहरण कर लिया. इसकी सूचना दुकान पर बैठे अज्ञात ग्राहक ने मुझे दिया.

जानकारी मिलते ही वरिय पदाधिकारी को घटना की सूचना देते हुए रविवार रात भर हमने अपने भाई की खोजबीन किया. लेकिन भाई का कहीं पता नहीं चला. रौशन ने कहा कि सोमवार के दिन करीब नौ बजे सूचना मिली कि अमरपुर शंभुगंज बॉर्डर के पास अज्ञात युवक का शव मिला.

घटनास्थल पर पहुंचने पर देखा कि शव मेरे भाई का ही है. उसे अपराधियों ने बुरी तरह से पीटकर एवं गोली मारकर हत्या कर दिया. घटना के बाद मृतक के भाई ने प्रशासन से अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की है.

वहीं, काफी समझाने के बाद जाम हटाया गया. इस मामले में बांका एसपी ने कहा कि घटना में सात लोग शमिल हैं. इसमें से तीन को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि बाकी को भी बहुंत जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा.