महिलाओं, युवाओं और कृषि का उत्थान ही ला सकता है ग्रामीण स्वराज : डॉ. सुभाष चंद्रा
X

महिलाओं, युवाओं और कृषि का उत्थान ही ला सकता है ग्रामीण स्वराज : डॉ. सुभाष चंद्रा

राज्यसभा सदस्य डॉ. सुभाष चंद्रा ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत गोद लिए गए गांव आदमपुर, सदलपुर और आदमपुर मंडी में आयोजित कार्यक्रमों में शिरकत की. इस बीच उन्होंने कई परियोजनाओं का उद्घाटन भी किया.

महिलाओं, युवाओं और कृषि का उत्थान ही ला सकता है ग्रामीण स्वराज : डॉ. सुभाष चंद्रा

रोहित कुमार/हिसार: राज्यसभा सदस्य डॉ. सुभाष चंद्रा ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत गोद लिए गए गांव आदमपुर, सदलपुर और आदमपुर मंडी में आयोजित कार्यक्रमों में शिरकत की. इस बीच उन्होंने कई परियोजनाओं का उद्घाटन भी किया . मंगलवार को सदलपुर गांव के कृषि विज्ञान केंद्र में शिरकत करते हुए सांसद डॉ. सुभाष चंद्रा ने किसानों से आमदनी और अच्छी सेहत पाने के लिए जैविक खेती अपनाने का भी आह्वान किया.

डॉ. सुभाष चंद्रा ने आदमपुर क्षेत्र के अलग-अलग कार्यक्रमों में भी हिस्सा लिया. उनका सबसे पहला कार्यक्रम गांव सदलपुर के कृषि विज्ञान केंद्र में कार्यक्रम हुआ. यहां इनका जोरदार स्वागत किया गया. कार्यक्रम में एचएयू के वीसी डॉ बीआर कम्बोज भी मौजूद थे. इस दौरान डॉ. सुभाष चंद्रा ने सुभाष चंद्रा फाउंडेशन के कृषि क्रांति कार्यक्रम का भी आगाज किया. कार्यक्रम में 1 हजार किसानों को अभियान के साथ जोड़ा गया, जो जैविक खेती की दिशा में काम करेंगे.

 

इस बीच स्पोर्ट्स के साथ-साथ समाज सेवा और अन्य गतिविधियों में भाग लेने वाले प्रतिभाशाली खिलाड़ियों और ग्रामीणों को सम्मानित भी किया गया. सांसद डॉ सुभाष चंद्रा ने कहा कि महिलाओं का कृषि का, युवाओं का उत्थान ही ग्रामीण स्वराज ला सकता है. किसान की आमदनी ज्यादा होगी तो वह अपने बच्चों का भविष्य सुधार सकेगा.

उन्होंने कहा कि आप अपनी मर्जी के मालिक तभी बनोगे, जब स्वराज होगा यानी खुद का राज. इसी उद्देश्य से 5 गांव गोद लिए हैं. सांसद डॉ. सुभाष चंद्रा ने मंच से कहा कि उन्होंने वोट के लिए नहीं, बल्कि वास्तविक विकास के लिए काम करवाए हैं. उन्होंने किसानों से जैविक खेती अपनाने का आह्वान किया.

WATCH LIVE TV 

कार्यक्रम में मौजूद एचएयू के वीसी डॉ बीआर कम्बोज ने भी सांसद द्वारा करवाए जा रहे काम कामों की तारीफ की. उन्होंने कृषि क्षेत्र में सुधार और नई तकनीक अपनाने के लिए किसानों का आह्वान किया. इस कार्यक्रम के बाद सांसद डॉ. सुभाष चंद्रा ने सदलपुर गांव में धर्मशाला की नींव भी रखी.

इसके अलावा उन्होंने आदमपुर की व्यापार मंडल की धर्मशाला में पोषण अभियान कार्यक्रम में शिरकत करते हुए महिलाओं को संबोधित किया. डॉ सुभाष चंद्रा ने आदमपुर गांव की नंदीशाला गोशाला पहुंचकर वहां भी कार्यक्रम में शिरकत की. गोशाला में शेड बनाया जाना हैं, जिसकी नींव  डॉ सुभाष चंद्रा ने रखी.

इसके अलावा वे अग्रोहा धाम भी पहुंचे थे. अग्रोहा विकास ट्रस्ट के संरक्षक डॉ सुभाष चंद्रा ने धाम के पदाधिकारियों से तमाम पहलुओं पर बातचीत की. उन्होंने कुलदेवी माता लक्ष्मी की आराधना कर समाज की समृद्धि और खुशहाली की भी कामना की. उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन के बावजूद शायद वे पहले व्यक्ति रहे, जिनके सभी कार्यक्रम बिना किसी विरोध के हुए. 

इन दो दिनों के दौरान के मुख्य मुद्दे

  • ग्रामीण क्षेत्र में सात सार्वजनिक कार्यक्रम, जिनमें सभी ने अच्छी तरह से भाग लिया.
  • पोषण योजना, कृषि क्रांति (1000 किसानों के साथ शुरू किया गया, जैविक उत्पादन कार्यक्रम)
  • पीएम मोदी की महिला सशक्तिकरण योजना 
  •  युवा खेल गतिविधियां 
  • अग्रोहा धाम शरद पूर्णिमा वार्षिक समारोह 

Trending news