महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार और कृषि कानून को लेकर SUI कम्युनिस्ट संगठन ने किया प्रोटेस्ट

सोनीपत एसयूआई कम्युनिस्ट संगठन ने महंगाई बेरोजगारी और भ्रष्टाचार समेत तीन कृषि कानून को लेकर प्रदर्शन और नारेबाजी करते हुए मिनी सचिवालय पहुंचे

महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार और कृषि कानून को लेकर SUI कम्युनिस्ट संगठन ने किया प्रोटेस्ट

राजेश खत्री/हरियाणा: सोनीपत एसयूआई कम्युनिस्ट संगठन ने महंगाई बेरोजगारी और भ्रष्टाचार समेत तीन कृषि कानून को लेकर प्रदर्शन और नारेबाजी करते हुए मिनी सचिवालय पहुंचे और उपायुक्त के माध्यम से देश के प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा. संगठन के सदस्यों ने बढ़ती हुई महंगाई को लेकर डीजल, पेट्रोल, रसोई गैस में हुई बढ़ोतरी को कम करवाने को लेकर अपनी मांग रखी.

देशभर में बढ़ती हुई महंगाई को लेकर लगातार अलग-अलग संगठन और विपक्ष लगातार प्रोटेस्ट कर रहा है और इसी के तहत सोनीपत में भी एसयूआई कम्युनिस्ट संगठन के सदस्यों ने मिलकर प्रदर्शन कर नारेबाजी करते हुए मिनी सचिवालय पहुंचे, जहां उपायुक्त को देश के प्रधानमंत्री के नाम जनसमस्याओं को लेकर ज्ञापन सौंपा है.

ज्ञापन के माध्यम से बढ़ते हुए डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस के दामों को कम करने की मांग की है. इस दौरान संगठन के पदाधिकारियों ने कहा कि सरकार लगातार पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए अलग-अलग नीति अपना रही है. कर्मचारियों ने आरोप लगाया कि सरकारी विभागों को भी पूंजीपतियों के हाथ में सौंप रही है.

ये भी पढ़े: Horoscope, 27 July 2021: सावन का पहला मंगलवार इन राशि वाले जातकों के लिए होगा खास, हर परेशानियों से मिलेगा छुटकार

तीन कृषि कानून और 44 श्रम कानूनों को बदलकर 4 श्रम कानून में तब्दील करने को लेकर भी विरोध प्रदर्शन किया गया है. सरकार सामाजिक कार्यकर्ताओं व जनता की जासूसी भी करवा रही. वहीं उन्होंने कहा कि आज बेरोजगार नौकरी के लिए दर-दर की ठोकर खा रहे हैं. लाखों पद खाली होने के बाद भी बेरोजगार को नौकरी नहीं दी जा रही है. तो वहीं, उन्होंने कहा कि जब तक सरकार महंगाई को कम नहीं करेगी तब तक लगातार प्रोटेस्ट करते रहेंगे.

WATCH LIVE TV