वज़ीरे आज़म ने PM गरीब कल्याण योजना में की तौसी, नवंबर तक मिलेगा मुफ्त राशन

वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी आज कौम के नाम खिताब के दौरान कहा है कोरोना आलमी महामारी के खिलाफ लड़ते हुए अब हम Unlock-2 में दाखिल कर रहे हैं और  हम उस मौसम में भी दाखिल कर रहे हैं जहां सर्दी-जुखाम,  खांसी-बुखार ये सारे न जाने क्या क्या होता है , के मामले बढ़ जाते हैं.

वज़ीरे आज़म ने PM गरीब कल्याण योजना में की तौसी, नवंबर तक मिलेगा मुफ्त राशन
फोटो बशुक्रिया ANI

नई दिल्ली: वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी आज कौम के नाम खिताब के दौरान कहा है कोरोना आलमी महामारी के खिलाफ लड़ते हुए अब हम Unlock-2 में दाखिल कर रहे हैं और  हम उस मौसम में भी दाखिल कर रहे हैं जहां सर्दी-जुखाम,  खांसी-बुखार ये सारे न जाने क्या क्या होता है , के मामले बढ़ जाते हैं. इसलिए ऐसे में उन्होंने अवाम से खुद की हिफाज़त करने की अपील की है. साथ ही वज़ीरे आज़म ने गरीबों को तोहफा देते हुए ऐलान किया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत गरीबों को मिलना वाला मुफ्त राशन अब नवंबर महीने तक मिलेगा.

कोरोना से हो रही मौत को लेकर उन्होंने कहा कि ये बात सही है कि अगर कोरोना से होने वाली मौत शरह को देखें तो दुनिया के कई मुल्कों की  के मवाज़ने में हिंदुस्तान संभली हुए हालात में है. वक्त पर किए गए लॉकडाउन और दीगर फैसलों ने हिंदुस्तान में लाखों लोगों की ज़िंदगी बचाई है. उन्होंने आगे कहा कि जब से मुल्क में  Unlock-1 हुआ है,  ज़ाती और समाजी व्यवहार में लापरवाही भी बढ़ती ही चली जा रही है. पहले हम मास्क को लेकर, दो गज का फासला को लेकर  20 सेकेंड तक दिन में कई बार हाथ धोने को लेकर बहुत मोहतात थे.

लॉकडाउन के दौरान बहुत संजीदगी से कानून पर अमल किया गया था. अब हुकूमत को, मकामी निकाय के इदारों को, मुल्क के शहरियों को, फिर से उसी तरह की मोहतात दिखाने की ज़रूरत है. खासकर कन्टेनमेंट जोन्स पर हमें बहुत ध्यान देनी की ज़रूरत है. जो भी लोग कानून पर अमल नहीं कर रहें हैं उन्हें हमें टोकने की ज़रूरत है. रोकना होगा और समझाना होगा.

लॉकडाउन के दौरान मुल्क की पहल रही कि ऐसे हालात न आएं कि किसी गरीब के घर में चूल्हा न जले. मरकज़ी हुकूमत हो या रियासती हुकूमत हो, सिविल सोसायटी के लोग हों, सभी ने पूरी कोशिश की है कि इतने बड़े मुल्क में हमारा कोई गरीब भाई बहन भूखा न सोए. मुल्क हो या शख्स, वक्त पर फैसले लेने से, हस्सासियत से फैसले लेने से, किसी भी बोहरान का मुकाबला करने की ताकत में मज़ीद इज़ाफा हो जाता है. इसलिए, लॉकडाउन होते ही हुकूमत, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लेकर आई.

गुज़िश्ता तीन महीनों में 20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपए जमा करवाए गए हैं. इस दौरान 9 करोड़ से ज्यादा किसानों के बैंक खातों में 18 हज़ार करोड़ रुपए जमा हुए हैं. उन्होंने आगे कहा कि एक और बड़ी बात है जिसने दुनिया को भी हैरान किया है, हैरानी में डुबो दिया है. वो ये कि कोरोना से लड़ते हुए हिंदुस्तान में, 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को 3 महीने का राशन, यानि परिवार के हर मेंबर को  5 किलो गेहूं या चावल मुफ्त दिया गया.

वज़ीरे आज़म #NarendraModi लाइव

Posted by Zee Salaam on Tuesday, 30 June 2020

वज़ीरे आज़म ने कहा कि जुलाई से धीरे-धीरे त्योहारों का भी माहौल बनने लगता है, त्योहारों का ये वक्त, ज़रूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है. इन सभी बातों को नज़र में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की तौसी अब दीवाली और छठ पूजा तक यानि नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए.

वज़ीरे आज़म मोदी ने कहा कि गरीब कल्याण अन्न योजना के इस तौसी में  90 हज़ार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च होंगे. अगर इसमें पिछले तीन महीने का खर्च भी जोड़ दें तो ये करीब-करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपए हो जाता है.

वज़ीरे आज़म ने कहा कि अब पूरे हिंदुस्तान के लिए एक वन नेशन-वन राशन भी हो रही है ‘one nation one ration card  इसका सबसे बड़ा फायदा उन गरीब साथियों को मिलेगा, जो रोज़गार या दूसरी ज़रूरतों के लिए अपना गाँव छोड़कर के कहीं और जाते हैं. वज़ीरे आज़म ने कहा कि आज गरीब को, ज़रूरतमंद को हुकूमत अगर मुफ्त अनाज दे पा रही है तो इसका क्रेडिट दो तबकों को जाता है. पहला- हमारे मुल्क के मेहनती किसान, हमारे अन्नदाता. और दूसरा- हमारे मुल्क के ईमानदार टैक्सपेयर. आपने ईमानदारी से टैक्स भरा है, अपनी ज़िम्मेदारी निभाई है, इसलिए आज मुल्क का गरीब, इतने बड़े बोहरान से मुकाबला कर पा रहा है. मैं आज हर गरीब के साथ ही, मुल्क के हर किसान, हर टैक्सपेयर का दिल से बहुत बहुत शुक्रिया अदा करता हूं, उन्हें सलाम करता हूं.

पीएम मोदी बोले, हम सारी एहतियात बरतते हुए Economic Activities को और आगे बढ़ाएंगे. हम खुदकफील हिंदुस्तान के लिए  दिन रात एक करेंगे. हम सब लोकल के लिए वोकल होंगे. इसी अज़्म के साथ हम 130 करोड़ मुल्क वासियों को मिलजुल कर के, अज्म के साथ काम भी करना है, आगे भी बढ़ना है.

Zee Salaam Live TV