थाना इंचार्ज अशफ़ाक़ खान ने पेश की इत्तेहाद की मिसाल, व्रत रख रहे शख्स को दिया फलाहार

पुलिस स्टेशन इंचार्ज अशफाक खान ने गौरव सिंह के लिए अपने घर से फलाहार बनवा कर मंगाया और लेकर शेल्टर होम पहुंचे. नवरात्रि का उपवास रखने वाले गौरव सिंह ने अशफाक खान का लाया हुआ फलाहार खाया.

थाना इंचार्ज अशफ़ाक़ खान ने पेश की इत्तेहाद की मिसाल, व्रत रख रहे शख्स को दिया फलाहार

झाबुआ : आज यानी 2 अप्रैल को रामनवमी (भगवान राम का जन्मदिन) के साथ ही चैत्र नवरात्रि का आख़िरी दिन है. इस मौके पर एमपी के झाबुआ से इंसानियत और इत्तेहाद की मिसाल पेश करने वाली खबर सामने आई है. कोरोना वायरस के इन्फेक्शन से बचने के लिए झाबुआ में शेल्टर होम बनाया गया है. काली देवी थाना इलाके में बनाए गए इस शेल्टर होम में 20 से ज्यादा लोग रह रहे हैं.

इसी शेल्टर होम में राजस्थान के धौलपुर निवासी गौरव सिंह भी रह रहे हैं. उनका नवरात्रि का व्रत था. शेल्टर होम की जांच करने पहुंचे मक़ामी थाना इंचार्ज को जब इसके बारे में पता चला तो उन्होंने भाईचारे और इत्तेहाद की शानदार मिसाल पेश की. पुलिस स्टेशन इंचार्ज अशफाक खान ने गौरव सिंह के लिए अपने घर से फलाहार बनवा कर मंगाया और लेकर शेल्टर होम पहुंचे. नवरात्रि का उपवास रखने वाले गौरव सिंह ने अशफाक खान का लाया हुआ फलाहार खाया.

आपको बता दें कि मुल्कभर में लॉकडाउन के चलते हिंदुस्तान में कई रियासतों से आए शहरी अलग अलग जगहों पर फंस गए हैं. रियासती हुकूमत ने ऐसे लोगों के लिए शेल्टर होम बनवाए हैं. इन शेल्टर होम्स में लोगों के रहने और खाने की सहूलियात मुहैया कराई गई हैं. हिंदुस्तान में कोरोना वायरस के मुतास्सिरीन की तादाद काफी रफ्तार से बढ़ रही है. हिंदुस्तान में अब तक 1800 के करीब पहुंच चुकी है और 50 लोगों की मौत हो चुकी है.

Watch Zee Salaam Live TV