Breaking News
  • महाराष्ट्र में मराठा आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट का अंतरिम रोक से इनकार

तेलंगाना में हारी कांग्रेस तो उठाए ईवीएम पर सवाल, बैलेट पेपर से चुनाव की मांग

तेलंगाना के नतीजों में के चंद्रशेखर राव की तेलंगाना राष्ट्र समिति ने पूरे राज्य में सूफड़ा साफ कर दिया है. सभी अनुमानों को पीछे छोड़ते हुए टीआरएस 60 से ज्यादा सीटें जीतती दिख रही है. कांग्रेस तेलंगाना में भी सरकार बनाने का दावा कर रही थी, लेकिन उसे यहां बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा है.

तेलंगाना में हारी कांग्रेस तो उठाए ईवीएम पर सवाल, बैलेट पेपर से चुनाव की मांग
तेलंगाना में कांग्रेस ने इन चुनाव में टीडीपी से गठबंधन किया था. फोटो : एएनआई

नई दिल्ली : तेलंगाना विधानसभा चुनावों (Telangana elections 2018) के साथ-साथ आए पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में भले कांग्रेस अच्छा प्रदर्शन कर रही हो, लेकिन फिर भी उसे ईवीएम से ऐतराज है. तेलंगाना में मनमुताबिक नतीजे नहीं आने से अब वहां पर राज्य इकाई ने ईवीएम पर सवाल उठाए हैं. तेलंगाना के नतीजों में के चंद्रशेखर राव की तेलंगाना राष्ट्र समिति ने पूरे राज्य में सूफड़ा साफ कर दिया है. सभी अनुमानों को पीछे छोड़ते हुए टीआरएस 60 से ज्यादा सीटें जीतती दिख रही है. कांग्रेस तेलंगाना में भी सरकार बनाने का दावा कर रही थी, लेकिन उसे यहां बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा है.

अब तेलंगाना कांग्रेस कमेटी के उत्तम कुमार रेड्डी ने ईवीएम पर सवाल उठा दिए हैं. उन्होंने कहा, मुझे ईवीएम पर संदेह है. इसलिए हम बैलट पेपर से चुनाव कराने की मांग करते हैं. मुझे लगता है कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की गई है, इससे वीवीपेट से निकली पर्चियों की भी गिनती की जानी चाहिए. 

तेलंगाना में इस बार चुनावों में कांग्रेस ने अपनी धुर विरोधी तेलुगू देशम पार्टी से गठबंधन किया था. तेलुगुदेशम और बीजेपी का गठबंधन टूट चुका है. ऐसे में कांग्रेस उम्मीद कर रही थी कि यहां पर उसे कामयाबी मिल सकती है, लेकिन कांग्रेस और टीडीपी गठबंधन को बड़ी कामयाबी नहीं मिली. टीआरएस इन चुनावों में ओवैसी की एआईएमआईएम के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही थी.

उत्तम कुमार ने कहा, कांग्रेस के सभी नेता आरओ अफसर से शिकायत करेंगे. इस मामले में हम इलेक्शन कमीशन से भी शिकायत करेंगे. वह काउंटिंग से पहले हार और जीत का दावा कैसे कर सकते हैं.