Shani Sade Sati: साल के पहले माह से ही शुरू होगा साढ़े साती का दूसरा चरण, इन राशि वालों की बढ़ेंगी परेशानियां!
topStories1hindi1479297

Shani Sade Sati: साल के पहले माह से ही शुरू होगा साढ़े साती का दूसरा चरण, इन राशि वालों की बढ़ेंगी परेशानियां!

Shani Vakri In January 2023: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार एक निश्चिक समय पर हर ग्रह गोचर और वक्री करता है और इसका प्रभाव व्यक्ति के जीवन पर साफ देखने को मिलता है. 17 जनवरी 2023 में शनि मकर राशि से निकलकर कुंभ राशि में गोचर कर जाएंगे. आइए जानें इस दौरान किन राशि के जातकों को सावधान रहना होगा.  

 

Shani Sade Sati: साल के पहले माह से ही शुरू होगा साढ़े साती का दूसरा चरण, इन राशि वालों की बढ़ेंगी परेशानियां!

Shani Gochar 2023: 17 जनवरी 2023 में शनि कुंभ राशि में वक्री होने जा रहे हैं. इस दौरान की राशियों को लाभ होगा, तो कुछ राशियों पर शनि की साढ़े साती का दूसरा चरण शुरू हो जाएगा. ऐसे में इन राशि के जातकों को विशेष सावधानी की जरूरत है. बता दें कि शनि 17 जनवरी 2023 को शाम 8 बजकर 2 मिनट पर कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे. जानें इस दौरान किन राशि के जातकों को खास सावधानी बरतने की जरूरत है. 

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 17 जनवरी को शनि कुंभ राशि में उल्टी चाल चलेंगे. इसका कुंभ राशि के जातकों पर विशेष प्रभाव पड़ेगा. शनि के वक्री होते ही कुंभ राशि में शनि की साढ़े साती का दूसरा चरण शुरू हो जाएगा. बता दें कि शनि की दृष्टि आपकी कुंडली के तीसरे, सातवें और दसवें भाव में रहेगी. ऐसे में कुंभ राशि के जातकों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. आइए जानें शनि साढ़े साती का दूसरा चरण कैसा फल देगा. 

नौकरीपेशा लोगों आएंगी दिक्कतें

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 17 जनवरी को शनि देव कुंभ राशि में वक्री हो जाएंगे. इस दौरान शनि की दृष्टि के मिले-जुले परिणाम देखने को मिलेंगे. वहीं, प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्र अपने लक्ष्य से भटक जाएंगे. इसके साथ ही, नौकरी-पेशा लोगों को अचानक से बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है और इस दौरान एकाग्रता भंग होगी.

वैवाहिक जीवन में आएंगी समस्याएं

सातवें भाव में शनि की दृष्टि से व्यक्ति के वैवाहिक जीवन में भी समस्याएं पैदा होंगी. इस दौरान जीवनसाथी के साथ मनमुटाव पैदा हो सकता है. ये समय आपके लिए मुश्किलों से भरा हो सकता है. वाणी पर नियंत्रण न रखने से रिश्तों में खटास का सामना करना पड़ सकता है. साथ ही, अविवाहित लोगों के विवाह में देरी हो सकती है. 

इस भाव पर होती है शनि की अच्छी नजर 

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुंडली में दसवें भाव पर शनि की दृष्टि जातकों के लिए अच्छी मानी जाती है. इस भाव में शनि की नजर अच्छी होती है. ऐसे में शनि आपको हमेशा शुभ फल प्रदान करते हैं. हमेशा प्रसन्न रखते हैं. शनि आपको इस दौरान पुण्य कर्म करने वाला बनाएंगे. व्यक्ति को मानसिक शांति प्राप्त होती है. 

अपनी फ्री कुंडली पाने के लिए यहां क्लिक करें
 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. ZEE NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.) 

Trending news