बजट से पहले बाजार में बहार, Sensex 665 अंक की ऊंची छलांग लगाकर बंद

बजट से पहले बाजार में बहार, Sensex 665 अंक की ऊंची छलांग लगाकर बंद

बजट से ठीक पहले बैंकिंग, वाहन, फार्मा, आईटी और एफएमसीजी शेयरों की जबरदस्त खरीदारी हुई है.

बजट से पहले बाजार में बहार, Sensex 665 अंक की ऊंची छलांग लगाकर बंद

मुंबई: बजट से पहले बैंकिंग, वाहन, फार्मा, आईटी और एफएमसीजी शेयरों में लिवाली से गुरुवार को बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स ने 665 अंक की ऊंची छलांग लगाई. वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी जोरदार लाभ के साथ 10,800 अंक के स्तर के पार निकल गया. अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व के नरम रुख से वैश्विक बाजारों में तेजी रही जिससे यहां भी धारणा में सुधार हुआ. विश्लेषकों ने कहा कि जनवरी के वायदा एवं विकल्प अनुबंधों के निपटान की वजह से शॉर्ट कवरिंग का सिलसिला चलने से भी बाजार में तेजी आई है. 

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 665.44 अंक या 1.87 प्रतिशत के लाभ से 36,256.69 अंक पर पहुंच गया. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 179.15 अंक या 1.68 प्रतिशत के लाभ से 10,830.95 अंक पर पहुंच गया. आईटी, ऊर्जा और बैंकिंग की अगुवाई में बीएसई के सभी वर्गों के सूचकांक लाभ में रहे. सेंसेक्स की कंपनियों में एक्सिस बैंक, टाटा मोटर्स, इन्फोसिस, कोटक बैंक, एचडीएफसी बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, बजाज आटो, एसबीआई, हिंदुस्तान यूनिलीवर, टाटा स्टील, वेदांता, एचडीएफसी, टीसीएस, आईटीसी और सनफार्मा के शेयर 4.64 प्रतिशत तक चढ़ गए. वहीं दूसरी ओर यस बैंक, एचसीएल टेक, बजाज फाइनेंस, आईसीआईसीआई बैंक और कोल इंडिया के शेयर 2.56 प्रतिशत तक टूट गए. 

भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ी, कालेधन के मददगारों की कमर टूटी : राष्ट्रपति

बीजेपी की अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार शुक्रवार को अपने कार्यकाल का आखिरी बजट पेश करेगी. माना जा रहा है कि सरकार बजट में कृषि क्षेत्र की दिक्कतों को दूर करने के लिए कदम उठाएगी. इसके अलावा रोजगार और उपभोग बढ़ाने के कदमों की भी उम्मीद है. एमके वेल्थ मैनेजमेंट के शोध प्रमुख जोसफ थॉमस ने कहा कि पूरे दिन सभी खंडों में तेजी रही. थॉमस ने कहा कि फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों के मोर्चे पर यथास्थिति कायम रखने और भविष्य में दरों में बढ़ोतरी की संभावना सीमित होने से बाजारों में तेजी रही. इसके अलावा अंतरिम बजट को लेकर काफी उम्मीदें हैं. 

इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार बुधवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 130.25 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे. घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 502.26 करोड़ रुपये की लिवाली की. वैश्विक मोर्चे पर बात की जाए, तो निवेशक अमेरिका चीन के बीच व्यापार विवाद को सुलझाने के लिए चल रही वार्ता को लेकर काफी आशान्वित हैं. 

एशियाई बाजारों में हांगकांग का हैंगसेंग 1.08 प्रतिशत चढ़ गया. जापान के निक्की में 1.06 प्रतिशत, शंघाई कम्पोजिट में 0.35 प्रतिशत का लाभ रहा. दक्षिण कोरिया का कॉस्पी 0.06 प्रतिशत नीचे आया. शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार लाभ में चल रहे थे. इस बीच, डॉलर के मुकाबले रुपया कुछ गिरावट के साथ 71.15 प्रति डॉलर पर चल रहा था. उधर, ब्रेंट कच्चा तेल बढ़त के साथ 61.55 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. 

(इनपुट-भाषा)

Trending news