Edible Oil Prices Cut: खाने के तेल की कीमतों में आएगी गिरावट, सरकार ने इंपोर्ट ड्यूटी में कटौती की

Edible Oil Prices Cut: खाने के तेल की कीमतें बीते एक साल में करीब दोगुनी हो चुकी है. लेकिन सरकार के इस कदम से अब उम्मीद जताई जा रही है कि खाने के तेल की कीमतों में गिरावट देखने को मिल सकती है.

Edible Oil Prices Cut: खाने के तेल की कीमतों में आएगी गिरावट, सरकार ने इंपोर्ट ड्यूटी में कटौती की

नई दिल्ली: Edible Oil Prices Cut: बढ़ती महंगाई के बीच आपके लिए थोड़ी राहत की खबर है. आपके किचन का बजट थोड़ा कम हो सकता है क्योंकि खाने के तेल (Edible Oil) की कीमतें कम हो सकती हैं. दरअसल सरकार ने पाम ऑयल (Palm Oil) पर इंपोर्ट ड्यूटी कम कर दी है. इस कदम के बाद उम्मीद जताई जा रही है कि रिटेल मार्केट में खाने के तेल की कीमतें घट जाएंगी. मई 2021 में खाने के तेल की कीमतें 10 साल के उच्चतम स्तर पर थीं. जो तेल पिछले साल तक 90-100 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा था, अब उसकी कीमत 150-160 रुपये हो चुकी है.

कितनी हुई इंपोर्ट ड्यूटी में कटौती

सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्‍ट टैक्‍सेज एंड कस्‍टम्‍स (CBIC) ने एक नोटिफिकेशन जारी किया है, जिसमें कस्टम ड्यूटी घटाने के बारे में जानकारी दी गई है. अब क्रूड पाम ऑयल पर सेस और अन्‍य चार्जेज मिलाकर कुल ड्यूटी 30.25 परसेंट हो गई है, जो कि पहले 35.75 परसेंट थी. जबकि, रिफाइंड पाम ऑयल के लिए ड्यूटी 49.5 परसेंट से घटाकर 41.25 परसेंट हो गई है. CBIC ने नोटिफिकेशन में यह भी कहा है कि ये बदलाव 30 जून से लागू होंगे और 30 सितंबर तक जारी रहेंगे.

 

ये भी पढ़ें- 1 July से आपकी जिंदगी में आएंगे 10 बड़े बदलाव, बैंकिंग सेवाओं से लेकर कारें होंगी महंगी

भारत सबसे ज्यादा पाम तेल का इंपोर्ट करता है

भारत में खाने की तेल की खपत का करीब 40% पाम तेल है. इसका इस्तेमाल पैकेज्ड फूड, फास्ट फूड, चॉकलेट, लिप्सटिक, शैम्पू वगैरह बनाने में होता है. भारत में क्रूड ऑयल और सोने के बाद सबसे ज्यादा इंपोर्ट पाम ऑयल का ही होता है. पूरी दुनिया में पाम ऑयल प्रोडक्शन का करीब 85% हिस्सा इंडोनेशिया और मलेशिया से होता है. लेकिन कोरोना वायरस संकट की वजह से इन देशों में लेबर का संकट पैदा हुआ है. कई दूसरे देशों से काम करने आए मजदूर कोरोना संकट में अपने देशों को लौट गए और पाम ऑयल की फसल पर इसका असर हुआ.

भारत खाद्य तेलों का सबसे बड़ा इंपोर्टर

भारत दुनिया का सबसे बड़ा भारत दुनिया का सबसे बड़ा खाद्य तेल का इंपोर्टर है, मई 2021 तक भारत में क्रूड पाम ऑयल का इंपोर्ट 48 परसेंट बढ़कर 7,69,602 टन हो गया था. मई 2020 में भारत ने 4,00,506 टन पाम ऑयल आयात किया था. मई 2021 के दौरान भारत में कुल खाद्य तेल का आयात करीब 60 फीसदी बढ़कर 12.49 लाख टन हो गया. जबकि, एक साल पहले ये 7.43 लाख टन था. इसमें से पाम ऑयल की हिस्‍सेदारी करीब 60 फीसदी से ज्‍यादा है.

ये भी पढ़ें- PM Kisan: पीएम किसान योजना में अब 6000 सालाना किस्‍त के साथ 3000 रु की Monthly Pension भी, ऐसे उठाएं लाभ

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.