नए वित्त वर्ष में RBI से 69 हजार करोड़ मिलने की उम्मीद

वित्त मंत्रालय को अगले वित्त वर्ष 2019-20 में भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) से 69,000 करोड़ रुपये का लाभांश मिलने की उम्मीद है. सूत्रों ने मंगलवार को इस बारे में जानकारी दी.

नए वित्त वर्ष में RBI से 69 हजार करोड़ मिलने की उम्मीद

नई दिल्ली : वित्त मंत्रालय को अगले वित्त वर्ष 2019-20 में भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) से 69,000 करोड़ रुपये का लाभांश मिलने की उम्मीद है. सूत्रों ने मंगलवार को इस बारे में जानकारी दी. सरकार ने अगले वित्त वर्ष में रिजर्व बैंक, राष्ट्रीयकृत बैंकों और वित्तीय संस्थानों से 82,911.56 करोड़ रुपये का लाभांश या अधिशेष मिलने का अनुमान लगाया है. यदि रिजर्व बैंक का केंद्रीय बोर्ड चालू वित्त वर्ष में 28,000 करोड़ रुपये के अंतरिम लाभांश को हस्तांतरित करने के सरकार के आग्रह को स्वीकार कर लेता है तो चालू वित्त वर्ष में केंद्रीय बैंक से सरकार को कुल अधिशेष हस्तांतरण 68 हजार करोड़ रुपये पर पहुंच जाएगा.

रिजर्व बैंक का वित्त वर्ष जुलाई से जून होता है. केंद्रीय बैंक सरकार को चालू वित्त वर्ष में पहले ही 40,000 करोड़ रुपये हस्तांतरित कर चुका है. रिजर्व बैंक से लाभांश और अन्य स्रोतों से होने वाली प्राप्तियों से सरकार को राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को पाने में मदद मिलती है. अंतरिम बजट 2019-20 में सरकार ने अगले वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा सकल घरेलू उत्पाद के 3.4 प्रतिशत रहने का लक्ष्य तय किया है.