close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अगर Aadhaar के साथ रजिस्टर नहीं है मोबाइल नंबर, तो इन सेवाओं का लाभ नहीं

आधार की जानकारी में नाम, जन्म की तारीख और एड्रेस की जरूरत होती है. प्राइवेसी के लिए मोबाइल नंबर नहीं देने पर कोई दिक्कत नहीं है. लेकिन, ज्यादातर सेवाओं का लाभ उठाने के लिए OTP की जरूरत होती है.

अगर Aadhaar के साथ रजिस्टर नहीं है मोबाइल नंबर, तो इन सेवाओं का लाभ नहीं
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: आधार कार्ड (Aadhaar) की महत्ता दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है. सरकार ने तो अब इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए भी आधार को लागू कर दिया है. अगर किसी के पास पैन कार्ड (PAN Card) नहीं है तो भी वह रिटर्न फाइल कर सकता है. इसके अलावा किसी भी सरकारी योजना का लाभ उठाने के लिए आधार की जरूरत होती है. यह एड्रेस प्रूफ के साथ-साथ फोटो आईडी की तरह भी काम करता है.

कुछ समय पहले तक आधार के बिना बैंक अकाउंट नहीं खोले जाते थे और मोबाइल सिम नहीं मिल पाता था. हालांकि, सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद इसकी अनिवार्यता खत्म कर दी गई. अब यह कस्टमर्स की इच्छा पर निर्भर करता है कि वह आधार देना चाहता है या नहीं. जानकारी के लिए बता दें, अगर आपका पैन और आधार लिंक नहीं है तो 30 सितंबर के बाद पैन बेकार हो सकता है. 

खो गया आधार, मोबाइल नंबर भी रजिस्टर्ड नहीं, फिर भी ऐसे करें रिकवर

इस तरह आधार की जरूरत के बारे में आसानी से समझा जा सकता है. लेकिन, आधार के साथ मोबाइल नंबर अगर लिंक नहीं है तो आप कई सुविधाओं का लाभ नहीं उठा पाएंगे. आधार की जानकारी में नाम, जन्म की तारीख और एड्रेस की जरूरत होती है. प्राइवेसी के लिए मोबाइल नंबर नहीं देने पर कोई दिक्कत नहीं है. आइये उन सुविधाओं के बारे में जानते हैं जिनका लाभ उठाना मुश्किल होगा, अगर आधार के साथ मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड नहीं है.

1. अगर आधार के साथ मोबाइल नंबर लिंक नहीं है तो ऑनलाइन सर्विस का फायदा नहीं मिल पाएगा. क्योंकि ऐसी सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर OTP सेंड किया जाता है.

2. मोबाइल रजिस्टर्ड नहीं होने पर ऑनलाइन एड्रेस अपडेट, नाम में बदलाव जैसी सर्विस का फायदा नहीं उठाया जा सकता है.

3. जिन सेवा में आधार ऑथेंटिकेशन- जैसे ITR वेरिफिकेशन और OPD अपॉइंटमेंट, की जरूरत होती है उन सेवाओं का लाभ नहीं उठाया जा सकता है.

4. mAadhaar को मोबाइल आधार कहते हैं जो आपके फोन में रहता है. इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए आधार के साथ मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड होना जरूरी है. यह UIDAI की मोबाइल एप आधारित सेवा है.

5. ऐसे में अगर आपने भी आधार से मोबाइल नंबर को लिंक नहीं किया है तो जल्द करवा लें. यह काम ऑनलाइन संभव नहीं है. इसके लिए आधार सेंटर जाना होगा. बायोमेट्रिक पहचान के बाद आपका आधार डेटा खुलता है. यहां आपका मोबाइल नंबर रजिस्टर करना होगा. यह चार्जेबल सर्विस है जिसकी फीस 50 रुपये है.