रेलवे बनेगी हाईटेक: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस AI से लैस होंगे देश के सभी प्लेटफार्म

भारतीय रेलवे अब सबसे अत्याधुनिक तकनीकों से लैस होने जा रहा है. रेलवे ने यात्रियों की सुरक्षा को चाक-चौबंद करने के लिए पहली बार देश के सभी प्लैटफार्मों को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस - Artificial Intelligence (AI) से लैस करने का फैसला किया है. देश में यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर नई तकनीक अपनाने का फैसला किया गया है. इससे रेलवे में किसी भी तरह के आपराधिक घटना को समय रहते टाला जा सकेगा. 

रेलवे बनेगी हाईटेक: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस AI से लैस होंगे देश के सभी प्लेटफार्म
प्रतीकात्मक तस्वीर....

भारतीय रेलवे अब सबसे अत्याधुनिक तकनीकों से लैस होने जा रहा है. रेलवे ने यात्रियों की सुरक्षा को चाक-चौबंद करने के लिए पहली बार देश के सभी प्लैटफार्मों को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस - Artificial Intelligence (AI) से लैस करने का फैसला किया है. देश में यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर नई तकनीक अपनाने का फैसला किया गया है. इससे रेलवे में किसी भी तरह के आपराधिक घटना को समय रहते टाला जा सकेगा. 

पहली बार फेस रेक्गनिशन - Face Recognition तकनीक का इस्तेमाल करेगा रेलवे, सभी रेलवे स्टेशनों में CCTV
रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने कहा 'देश में रेलवे की सुरक्षा को हाईटैक बनाने के लिए रेलवे दुनिया के अत्याधुनिक तकनीकों का इस्तेमाल करेगी. रेलवे पहली बार सभी रेलवे स्टेशनों में Artificial Intelligence का इस्तेमाल करेगी. इसके साथ ही देश में पहली बार चेहरा पहचानने वाली तकनीक Face Recognition को शामिल किया जाएगा. किसी भी सरकारी तंत्र में यह पहली बार इस अत्याधुनिक तकनीक का इस्तेमाल होगा.' रेलवे चेयरमैन ने आगे बताया कि इन तकनीकों को इस्तेमाल करने के लिए देश के सभी 6100 रेलवे स्टेशनों में CCTV कैमरे लगाए जाएंगे. इनकी मदद से ही फेस रेक्गनिशन इस्तेमाल किया जाएगा.


रेलवे इस्तेमाल करेगा फेस रेक्गनिशन

2500 करोड़ की लागत से लगेंगे CCTV
भारतीय रेलवे ने CCTV कैमरे लगाने के लिए एक भारी भरकम बजट पास किया है. अधिकारियों का कहना है कि 2022 तक सभी रेलवे स्टेशनों को CCTV से लैस कर दिया जाएगा. इसके लिए निर्भया फंड से 500 करोड़ मंजूर किए गए हैं जबकि रेल विभाग लगभग 2000 करोड़ रुपए इस कार्य के लिए आवंटित करेगा.

देस के सभी स्टेशनों मे मिलेगा Wifi 
रेल मंत्रालय देश के सभी स्टेशनों को Wifi से लैस करेगा. फिलहाल देश के कुछ चुनिंदा स्टेशनों में ही Wifi की सुविधा है. लेकिन रेल मंत्रालय का कहना है कि यात्रियों की सुविधा के लिए सभी स्टेशनों में नेट कनेक्टिविटी से जोड़ा जाएगा.