photoDetails1hindi

IAS Success Story: मां हैं पुलिस में असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर, बेटी पहले बनी IPS और फिर आईएएस, पढ़िए पूरी स्टोरी

IAS Pooja Gupta: मेहनत और हिम्मत से कोई भी पत्थर को तोड़ा जा सकता है. ऐसी ही कहानी है दिल्ली पुलिस में तैनात सब इंस्पेक्टर रेखा गुप्ता की बेटी पूजा गुप्ता की, जिन्होंने UPSC सिविल सेवा परीक्षा 2020 में AIR 42 हासिल की.

1/6

पूजा गुप्ता ने 12वीं के बाद मेडिकल की पढ़ाई करने का फैसला किया, लेकिन यूपीएससी हमेशा उनकी दिल में रहा. डॉक्टर बनने के लिए पढ़ाई के साथ-साथ वे यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करती रहीं. पूजा पहले ही प्रयास में यूपीएससी क्लियर कर आईपीएस के लिए सेलेक्ट हो गई थी. 

2/6

पूजा के दादाजी का सपना था कि वह आईएएस ऑफिसर बनें. इसलिए आईपीएस बनने के बाद भी पूजा सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करती रहीं और यूपीएससी 2020 में उन्होंने 42वीं रैंक हासिल कर आईएएस बनने का सपना पूरा किया.

3/6

पूजा गुप्ता की मां रेखा गुप्ता दिल्ली पुलिस में असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर हैं. उनके पिता प्राइवेट जॉब करते हैं. पूजा अपनी मां की वर्दी से प्रेरित थी और सिविल सर्विस एग्जाम में शामिल होना चाहती थीं. उन्होंने सिविल सेवा परीक्षा 2018 में अपने पहले प्रयास में एआईआर 147 रैंक हासिल की.

4/6

वह अपने स्कूल के दिनों में पुलिस पुलिस के तत्कालीन डीसीपी द्वारा सम्मानित किए जाने को याद करती हैं. तभी से वह आईएएस अधिकारी बनना चाहती थीं. हालांकि, स्कूल के बाद वह मेडिसिन की पढ़ाई करती रहीं, लेकिन फिर वह अपने आईएएस के सपने के प्रति आकर्षित हुईं और इसे हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत की.

5/6

अपनी तैयारी की स्ट्रेटजी के बारे में बताते हुए पूजा ने कहा कि शुरुआत में उन्होंने इंटरनेट को माध्यम बनाया. यूट्यूब पर टॉपर्स की बातचीत से उन्हें अपनी तैयारी के लिए एक चार्ट बनाने में मदद मिली. 

6/6

वह एनसीईआरटी और अखबारों पर निर्भर थीं. वहीं पीआईबी और पीआरएस जैसी कुछ सरकारी वेबसाइटों पर भी लगातार नजर रखे हुए थीं और वहां से कंटेंट निकाला. उनके लिए एक ऑप्शनल सब्जेक्ट चुनना आसान था और मानव विज्ञान एक ऐसा विषय है जिसे वह बहुत पसंद करती है. पूजा की फैमिली ने मेडिसिन की पढ़ाई के साथ-साथ यूपीएससी की तैयारी के दौरान भी उनका भरपूर साथ दिया.

photo-gallery