Physical standards of IAS- IPS: IPS बनने का फिजिकल क्राइटेरिया क्या होता है? क्या IAS बनने के लिए भी होती है हाइट की शर्त
topStories1hindi1386338

Physical standards of IAS- IPS: IPS बनने का फिजिकल क्राइटेरिया क्या होता है? क्या IAS बनने के लिए भी होती है हाइट की शर्त

IAS- IPS Physical Eligibility: क्या IAS अधिकारी बनने के लिए भी कोई ऊंचाई-वजन का कोई न्यूनतम पैमाना होता है. जो युवा IPS ज्वॉइन करना चाहते हैं, उनके लिए फिजिकल क्राइटेरिया क्या होता है. आइए आज आपको इस बारे में विस्तार से बताते हैं.

Physical standards of IAS- IPS: IPS बनने का फिजिकल क्राइटेरिया क्या होता है? क्या IAS बनने के लिए भी होती है हाइट की शर्त

Physical Eligibility of IAS- IPS: प्राइवेट सेक्टर में चमकदार करियर के बावजूद सिविल सेवाओं के प्रति युवाओं का क्रेज कम नहीं हुआ है. हर साल लाखों की संख्या में युवा UPSC के एग्जाम में बैठते हैं. इनमें से कई युवा IAS बनने को तरजीह देते हैं तो कई नौजवान वर्दी वाली IPS की जॉब को प्रेफर करते हैं. आइए आपको बताते हैं कि IAS या IPS बनने के लिए फिजिकल क्राइटेरिया क्या होता है और इसमें ऊंचाई-वजन के लिए क्या नियम-शर्तें रखी गई हैं.

जान लें कार्मिक मंत्रालय के नियम
 
UPSC की नियुक्तियां देखने वाले डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग (DoPT) के नियमों की बात करें तो उसके सिविल सर्विस परीक्षा के रूल 21 में साफ कहा गया है, 'एक उम्मीदवार को शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य अच्छा होना चाहिए. वह किसी भी शारीरिक दोष से मुक्त होना चाहिए, जिससे वह एक अधिकारी के रूप में अपने कर्तव्यों का आसानी से निर्वहन कर सके.'

IAS के लिए कोई फिजिकल क्राइटेरिया नहीं

अगर हम IAS अधिकारियों के फिजिकल क्राइटेरिया (Physical Eligibility of IAS) की बात करें तो उनके लिए न्यूनतम ऊंचाई, वजन और छाती की कोई आवश्यकता नहीं है. उनकी बस यूपीएससी रैंक अच्छी आनी चाहिए और वे अधिकारी के रूप में अपनी जिम्मेदारी पूरी करने के लिए सक्षम होने चाहिए. इंटरव्यू के बाद उनका मेडिकल टेस्ट जरूर कराया जाता है, लेकिन वह केवल उनकी शारीरिक स्थिति के बारे में जानने के लिए होता है. उसका सिलेक्शन से कोई संबंध नहीं होता. 

IPS के लिए फिजिकल क्राइटेरिया तय

वहीं अगर वर्दी वाली IPS की पोस्ट के बारे में बात की जाए तो उसमें सिलेक्शन के लिए न्यूनतम फिजिकल क्राइटेरिया फिक्स है. यूपीएससी के नोटिफिकेशन के मुताबिक इसमें चयन के लिए सामान्य श्रेणी के पुरुषों के लिए ऊंचाई कम से कम 165 सेंटीमीटर ऊंचाई होनी चाहिए. जबकि ओबीसी और SC-ST ओबीसी कैटेगरी के पुरुषों के लिए यह ऊंचाई 160 सेंटीमीटर रखी गई है. 

वहीं महिला वर्ग की सामान्य श्रेणी में न्यूनतम ऊंचाई 150 सेंटीमीटर की शर्त रखी गई है. वहीं ओबीसी और SC-ST वर्ग के लिए यह ऊंचाई 145 सेंटीमीटर रखी गई है. मेडिकल टेस्ट के दौरान उम्मीदवारों की आंखों की रोशन पर भी ध्यान दिया जाता है. IPS संवर्ग में फिट आंखों का विजन 6/6  या 6/9 होना जरूरी रखा गया है. वहीं कमजोर आंखों का विजन 6/12 या 6/9 होने की शर्त रखी गई है. 

इन वर्दीधारी सेवाओं के लिए भी अनिवार्य 

ध्यान रखने वाली बात ये है कि UPSC ने इंडियन पुलिस सर्विस (IPS) के साथ ही पांडिचेरी पुलिस सर्विस (PONDIPS), रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (RPF), दिल्ली अंडमान एंड निकोबार पुलिस सर्विस (DANIPS) और इंडियन रेलवे ट्रैफिक सर्विस (IRTS) में भर्ती के लिए भी ऊंचाई, वजन, छाती के लिए न्यूनतम शारीरिक अहर्ता रखी हुई हैं. 

(ये स्टोरी आपने पढ़ी देश की सर्वश्रेष्ठ हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर)

Trending news